बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalशिपिंग सेक्‍टर में भारत बढ़ाए साइबर सिक्‍योरिटी, सिंगापुर के एक्‍सपर्ट्स ने दी राय

शिपिंग सेक्‍टर में भारत बढ़ाए साइबर सिक्‍योरिटी, सिंगापुर के एक्‍सपर्ट्स ने दी राय

सिंगापुर के सिक्‍योरिटी एक्‍सपर्ट्स ने भारत से आग्रह किया है कि वह अपने शिपिंग सेक्‍टर में साइबर सुरक्षा बढ़ाए।

1 of

 

सिंगापुर. सिंगापुर के सिक्‍योरिटी एक्‍सपर्ट्स ने भारत से आग्रह किया है कि वह अपने शिपिंग सेक्‍टर में साइबर सुरक्षा बढ़ाए। इन लोगों का कहना है कि भारत अपने शिपिंग सेक्‍टर में सैकड़ों करोड़ डालर का निवेश कर रहा है, लेकिन एंटी साइबर अटैक नियमों को लेकर समय की जरूरत के हिसाब से कदम नहीं उठा रहा है।

 

शिपिंग सेक्‍टर में बढ़ रही घटनाएं

सिंगापुर की साइबर सिक्‍योरिटी कंपनी प्रग्‍मा के जियोफ ल‍ीमिंग का कहना है कि वैसे तो साइबर अटैक सभी सेक्‍टर की समस्‍या है, लेकिन पिछले कुछ सालाें से शिपिंग इंडस्‍ट्री में ऐसे हमले बढ़े हैं। उन्‍होंने कहा कि एंटी साइबर अटैक रूल्‍स और रेग्‍युलेशन भारत जैसे देशों पर भी लागू हैं, जहां शिपिंग सेक्‍टर में इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर में भारी निवेश किया जा रहा है। लेकिन साइबर सिक्‍योरिटी पर भी ध्‍यान बढ़ाने की जरूरत है।

 

 

साइबर हमले का इंतजार न करें

उन्‍होंने कहा कि भारत को किसी साइबर अटैक का इंतजार नहीं करना चाहिए, क्‍यों कि ऐसा हुआ तो यह मुम्‍बई में हुए 26/11 जैसे हमले से भी ज्‍यादा खतरनाक साबित होगा। उन्‍होंने कहा कि शिपिंग इंडस्‍ट्री को जागने का समय आ गया है।

 

भारत में शिपिंग सेक्‍टर में कम हैं आईटी एक्‍सपर्ट्स

उन्‍होंने कहा कि भारत में शिपिंग सेक्‍टर भी अन्‍य देशों जैसा ही है, लेकिन यहां पर आईटी एक्‍सपर्ट्स काफी कम हैं, जबकि भारत के पास इस सेक्‍टर में काफी टेलेंट पूल है।

 

हैकर्स के निशाने पर आ सकता है भारत

भारत में शिपिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर में सरकार के साथ निजी सेक्‍टर भी जुड़ा हुआ है। OSERV प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक पीटर शेलेंबर्गर का कहना है कि यह सेक्‍टर साइबर अटैक करने वालों के निशाने पर आ सकता है। उन्‍होंने कहा कि भारतीय कंपनियां साइबर सिक्‍योरिटी पर ध्‍यान तो दे रही हैं, लेकिन यह उनका फोकस एरिया नहीं है। उनके अनुसार भारत का 95 फीसदी निर्यात शिपिंग से होता है, ऐसे में इस क्षेत्र में ध्‍यान देने की जरूरत है।

 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट