विज्ञापन
Home » Economy » InternationalEU launches WTO cases against India, Turkey

यूरोपियन यूनियन ने भारत के खिलाफ WTO में किया केस, इम्पोर्ट ड्यूटी से जुड़ा है मामला

आईटी प्रोडक्ट्स के इम्पोर्ट पर ड्यूटी लगाने से भड़का यूरोपियन यूनियन

EU launches WTO cases against India, Turkey

यूरोपियन यूनियन (ईयू) ने आईटी प्रोडक्ट्स पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने को लेकर भारत के खिलाफ विश्व व्यापार संगठन यानी WTO (World Trade Organization) में केस किया है।

ब्रसेल्स. यूरोपियन यूनियन (ईयू) ने आईटी प्रोडक्ट्स पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने को लेकर भारत के खिलाफ विश्व व्यापार संगठन यानी WTO (World Trade Organization) में केस किया है। इसके साथ ही ईयू ने तुर्की के खिलाफ भी ऐसी ही एक कार्रवाई की है, जो फार्मास्युटिकल प्रोड्यूसर्स को प्रभावित करने के लिए कदम उठाने से जुड़ी है।

 

सालाना 1.1 अरब डॉलर के एक्सपोर्ट पर पड़ेगा असर


रॉयटर्स के मुताबिक, यूरोपियन यूनियन के 28 देशों की ट्रेड पॉलिसी पर नजर रखने वाले यूरोपियन कमीशन ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि इसके चलते ईयू से प्रति वर्ष होने वाले 1 अरब यूरो (1.1 अरब डॉलर) के एक्सपोर्ट पर असर पड़ा है।

 

इस मामले में भारत के खिलाफ किया केस

कमीशन ने कहा कि भारत के मामले में ईयू ने आईटी प्रोडक्ट्स की एक व्यापक रेंज पर 7.5 फीसदी और 20 फीसदी के बीच इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने के फैसले को चुनौती दी है। इन प्रोडक्ट्स मोबाइल फोन और कम्पोनेंट्स के साथ इंटीग्रेटेड सर्किट भी शामिल हैं।

 

तुर्की ने ऐसे पहुंचाया नुकसान

तुर्की के खिलाफ मामले में कमीशन ने कहा कि ईयू उस कदम को चुनौती दे रहा है, जिसके चलते फार्मास्युटिकल प्रोड्यूसर्स अपना प्रोडक्शन तुर्की में शिफ्ट करने को मजबूर हो गए हैं। डब्ल्यूटीओ विवाद के सेटलमेंट के पहले कदम के तौर पर परामर्श के लिए 60 दिन का वक्त दिया जाता है। यदि परामर्श में कोई समाधान नहीं निकलता है तो ईयू इस मामले में डब्ल्यूटीओ पैनल से फैसला सुनाने का अनुरोध कर सकता है।


 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन