Home » Economy » InternationalDonald Trump agree to stop trade war with China

ट्रेड वार को फिलहाल रोकने पर राजी हुए ट्रम्प-जिनपिंग, इम्पोर्ट बढ़ाएगा चीन

90 दिन तक कोई टैरिफ नहीं बढ़ाएगा अमेरिका

Donald Trump agree to stop trade war with China

 

ब्यूनस आयर्स. America Vs China: चीन और अमेरिका फिलहाल ट्रेड वार थामने के लिए राजी हो गए हैं। अमेरिका जहां चीनी इम्पोर्ट पर 90 दिन तक कोई नया टैरिफ नहीं लगाने पर सहमत हुआ, वहीं चीन ने व्यापार असंतुलन में कमी लाने के लिए अमेरिका से एक्सपोर्ट बढ़ाने की बात कही। अर्जेंटीना में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मीटिंग के दौरान ऐसे ही कई अहम फैसले हुए।

 

टैरिफ नहीं बढ़ाएगा अमेरिका

व्हाइट हाउस ने एक स्टेटमेंट में कहा कि ट्रम्प 200 अरब डॉलर के चीनी इम्पोर्ट पर 10 फीसदी टैरिफ सीमित रखने को राजी हो गए हैं, जिसे ‘फिलहाल’ बढ़ाकर 25 फीसदी नहीं किया जाएगा। बयान के मुताबिक, ‘चीन भी व्यापार असंतुलन में कमी लाने के लिए अमेरिका से इम्पोर्ट बढ़ाने को राजी हो जाएगा। इसमें अधिकांश मात्रा एग्रीकल्चर, एनर्जी, इंडस्ट्रियल और अन्य प्रोडक्ट शामिल होंगे।’ चीन हमारे किसानों से तत्काल एग्रीकल्चर प्रोडक्ट खरीदने के लिए राजी हो गया है।

 

इन बदलावों पर राजी हुए अमेरिका-चीन

व्हाइट हाउस ने कहा कि दोनों लीडर्स टेक्नोलॉजी ट्रांसफर, इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी प्रोटेक्शन, नॉन टैरिफ बैरियर्स, साइबर इंट्रुशंस और साइबर चोरी,सर्विसेस और एग्रीकल्चर के संबंध में ढांचागत बदलाव पर तुरंत वार्ता शुरू करने के लिए राजी हो गए हैं।

अमेरिका ने कहा कि दोनों देश इन फैसलों को 90 दिन के भीतर लागू कर देंगे, लेकिन यदि ऐसा नहीं होता है तो 10 फीसदी टैरिफ को बढ़ाकर 25 फीसदी कर दिया जाएगा। उधर, चीन सरकार के टॉप डिप्लोमैट स्टेट काउंसिलर वांग यी ने कहा कि बातचीत ‘दोस्ताना और साफ-सुथरे माहौल में संपन्न हुई।’ पिछले साल नवंबर में ट्रंप की चीन यात्रा के बाद यह दोनों नेताओं की पहली आमने-सामने मुलाकात थी।

 

यह भी पढ़ें-भारत का बजा डंका तो बौखला गया चीन, मालदीव पर फोड़ा 23 हजार करोड़ का बम 

 

चीन ने दिया यह बयान

वांग ने कहा कि दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच व्यापार और आर्थिक मुद्दों पर विचार-विमर्श काफी 'सकारात्मक' रहा और अतिरिक्त शुल्क नहीं लगाने पर सहमति बनी है। उन्होंने कहा कि व्यापार असंतुलन को धीरे-धीरे कम करने के लिये चीन अमेरिका से बाजार आधारित उत्पादों का आयात बढ़ाएगा।

उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष एक-दूसरे के लिए बाजारों को खोलने पर राजी हुए हैं और चीन इसे आगे बढ़ाने के लिए अमेरिका की चिंताओं को धीरे-धीरे दूर करेगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट