Advertisement
Home » Economy » InternationalChoksi opts for Antigua & Barbuda citizenship

चौकसी ने ली एंटीगुआ एंड बरबूडा की सिटीजनशिप, 13500 करोड़ के घोटाले में है आरोपी

अब भारत का नागरिक नहीं रहा चौकसी, जमा की 177 डॉलर फीस

Choksi opts for Antigua & Barbuda citizenship

मुंबई. भारत के लिए नई मुश्किलें बढ़ाते हुए देश से फरार चल रहे हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी (Mehul Choksi) ने अपनी भारत की नागरिकता सरेंडर कर दी है। आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें वेस्टइंडीज में एंटीगुआ और बरबूडा आइसलैंड की नागरिकता ले ली है। मेहुल चौकसी (Mehul Choksi) 13500 करोड़ रुपए के पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) फ्रॉड में मुख्य आरोपी हैं।

 

चौकसी ने बीते साल ही ले ली थी सिटीजनशिप

चौकसी ने बीते साल ही अपनी नई सिटीजनशिप हासिल कर ली थी और फिर अपना कैंसिल हो चुके इंडियन पासपोर्ट संख्या Z3396732 जमा कर दिया था। उन्होंने इसके लिए 177 डॉलर मैंडेटरी फीस जमा की और अन्य औपचारिकताएं पूरी कीं। इस संबंध में चौकसी के वकील ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया और कहा कि वे अब उनके साथ लंबे समय से संपर्क में नहीं हैं।

 

लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स के सहारे किया था फ्रॉड

चौकसी और उनके भतीजे नीरव मोदी (Nirav Modi) पर चुनिंदा बैंक अधिकारियों के साथ मिलीभगत से अपनी ग्रुप कंपनियों को 13500 करोड़ रुपए से ज्यादा के फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (LoUs) जारी करके PNB के साथ फ्रॉड के आरोप हैं। उन्होंने ऐसा PNB की प्रमुख ब्रैडी हाउस ब्रांच के माध्यम से किया।

 

13 हजार करोड़ से ज्‍यादा के घोटाले के हैं आरोपी 

हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि समूह के मेहुल चौकसी 13,000 करोड़ रुपए से ज्यादा के पीएनबी घोटाले में आरोपी हैं। इस घोटाले में अतिरिक्त 1,300 करोड़ रुपए के और  फ्रॉड का 26 फरवरी को खुलासा हुआ था। सीबीआई ने एक साल पहले नीरव मोदी, उनकी पत्नी आमी, भाई निशाल, मेहुल चौकसी और मोदी की कंपनियों डायमंड आर यूएस, सोल एक्सपोर्ट्स और स्टेलार डायमंड के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement