बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalभारत के किशनगंगा प्रोजेक्‍ट में वर्ल्‍ड बैंक नहीं देगा दखल, खारिज की पाक की अपील

भारत के किशनगंगा प्रोजेक्‍ट में वर्ल्‍ड बैंक नहीं देगा दखल, खारिज की पाक की अपील

जम्मू-कश्मीर में 330 मेगावाट के किशनगंगा हाइड्रो प्रोजेक्ट को लेकर वर्ल्‍ड बैंक पहुंचे पाकिस्तान को करारा झटका लगा है।

भारत के किशनगंगा प्रोजेक्‍ट में वर्ल्‍ड बैंक नहीं देगा दखल, खारिज की पाक की अपील
नई दिल्‍ली. भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर में 330 मेगावाट के किशनगंगा हाइड्रो प्रोजेक्ट को लेकर वर्ल्‍ड बैंक पहुंचे पाकिस्तान को करारा झटका लगा है। वर्ल्‍ड बैंक ने मामले में दखल देने से इंकार करते हुए पड़ोसी मुल्‍क की आपत्तियों को खारिज कर दिया है। 
  > 
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मई को किशनगंगा हाइड्रो प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया था। इस पर पाक को शुरू से ही आपत्‍त‍ि थी। पाकिस्तान ने भारत पर सिंधु जल समझौते के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए वर्ल्‍ड बैंक से शिकायत की थी। पाक का कहना था कि वर्ल्‍ड बैंक इस प्रोजेक्‍ट पर निगरानी रखे और गारंटर की भूमिका निभाए।  
 

बॉर्डर से केवल 10 किलोमीटर दूर है प्रोजेक्‍ट 

किशनगंगा प्रोजेक्‍ट की शुरुआत 2007 में हुई थी। यह प्रोजेक्‍ट बॉर्डर से महज दस किलोमीटर की दूरी पर है। यह इलाका साल में छह महीनों के लिए राज्य के बाकी हिस्सों से कटा रहता है। 
 

इंटरनेशनल कोर्ट भी जा चुका है पाक 

इससे पहले भी पाक 2010 में यह मामला हेग स्थित इंटरनेशनल कोर्ट में में उठा चुका है। तब कोर्ट ने तीन साल के लिए प्रोजेक्‍ट पर रोक लगा दी थी। उसके बाद 2013 में कोर्ट ने किशनगंगा प्रोजेक्‍ट को सिंधु जल समझौते के अनुरूप मानते हुए रोक हटा दी थी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट