Home » Economy » InternationalTrump and Jinping decides to halt imposing new tariffs, trade talks to begin soon

1 जनवरी से बदल जाएगी दुनिया के व्यापार की दिशा, दो दिग्गजों में हो गई सुलह

चीन एवं अमेरिका ने 1 जनवरी से नहीं लगाएंगे एक-दूसरे पर नए टैरिफ

1 of

नई दिल्ली.

लंबे समय से चल रही ट्रेड वॉर पर लगाम लगाते हुए दुनिया की दो बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के राष्ट्रपतियों ने तय किया है कि अब वे एक-दूसरे पर टैरिफ नहीं लगाएंगे। अर्जेंटीना में चल रही जी20 समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस व्यापार युद्ध पर विराम लगाते हुए अपनी व्यापार वार्ता को आगे बढ़ाने पर सहमति जताई है।

 

अमेरिका ने दोनों नेताओं की इस मुलाकात को बेहद सफल बताते हुए कहा कि अब अमेरिका चीन के 200 अरब डॉलर के उत्पाद पर मौजूदा टैरिफ रेट 10 फीसदी ही रहने देगा। वह इसे बढ़ाकर 25 फीसदी नहीं करेगा जैसा कि 1 जनवरी से किया जाना था। इसके बदले में अमेरिका चाहता है कि राष्ट्रपति ट्रंप को चीन की व्यापार पद्धतियों से जो शिकायतें हैं, उन पर जल्द बात शुरू की जाए। इनमें बौद्धिक संपदा की चोरी, नॉन-टैरिफ बैरियर्स और सायबर चोरी शामिल है।

 

आगे पढ़ें- अमेरिका ने दिया 90 दिनों का समय

 

 

अमेरिका ने दिया 90 दिनों का समय

व्हाइट हाउस सचिव Sarah Huckabee Sanders ने बताया कि अगर 90 दिनों तक दोनों देशों के बीच व्यापार को लेकर नीतियों में बदलाव नहीं किया जाता है तो अमेरिका टैरिफ दर को बढ़ाकर 25 फीसदी कर देगा। दूसरी तरफ चीन ने भी सहमति जताई है कि वह कृषि और औद्योगिक उत्पादों की खरीद में बढ़ोतरी करेगा ताकि अमेरिका के साथ व्यापार असंतुलन को संतुलित किया जा सके।

 

आगे पढ़ेंजानलेवा केमिकल पर प्रतिबंध लगाने की भी की मांग

 

 

जानलेवा केमिकल पर प्रतिबंध लगाने की भी की मांग

व्यापार के अलावा ट्रंप ने एक और अहम मुद्दे पर चर्चा की। उन्हाेंने चीनी राष्ट्रपति से कहा कि चीन सिंथेटिक ओपियोइड फेंटानिल और अन्य केमिकल्स के अमेरिका में भेजे जाने पर उचित प्रतिबंध नहीं लगा रहा है। इन केमिकल्स के ओवरडोज के कारण अमेरिका में बड़ी संख्या में मौतें हो रही हैं। डिनर के बाद अमेरिकी सचिव Sanders ने कहा कि चीन ने फेंटानिल को कंट्रोल्ड पदार्थ मानने पर सहमति जताई है और यह भी कहा कि इसे बेचने वालों को चीनी कानून के तहत कड़ी सजा दी जाएगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट