विज्ञापन
Home » Economy » InternationalPulwama Attack: Pakistan tourism sector will get affected

पुलवामा हमला: अमेरिका ने जारी की चेतावनी, पाक ना जाने की दी सलाह, कहा-बन रही है हमलों की योजना

पाकिस्तान के टूरिज्म सेक्टर में आएगी कमी

Pulwama Attack: Pakistan tourism sector will get affected

Pulwama Attack: Pakistan tourism sector will get affected    अमेरिका ने मुख्य रूप से आतंकवाद और पाकिस्तान के भीतर या उसके समीप नागरिक विमानों को होने वाले खतरे के कारण अपने नागरिकों से वहां यात्रा पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है।

नई दिल्ली. अमेरिका ने अपने नागरिकों को सुरक्षा कारणों की वजह से पाकिस्तान की यात्रा न करने की चेतावनी दी है। अमेरिका ने कहा कि आतंकग्रस्त पाकिस्तान की यात्रा करने से बचना चाहिए। संघीय विमानन प्रशासन की तरफ से जारी एक नोटिस में कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में संभावित हमलों की योजना बना रहे हैं। अमेरिकी प्रशासन ने अपने नागरिकों से आतंकवाद और सशस्त्र संघर्ष की संभावना के कारण पूर्व संघीय प्रशासित जनजातीय इलाकों (एफएटीए) और कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से समेत बलूचिस्तान तथा खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की यात्रा ना करने के लिए कहा है।

 

आतंकी समूह पाकिस्तान में हलमे की योजना में 

मंत्रालय ने कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में हमलों की योजना बना रहे हैं। आतंकवादी परिवहन के हब, बाजार, शॉपिंग मॉल, सैन्य प्रतिष्ठानों, हवाईअड्डों, विश्वविद्यालयों, पर्यटक स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों, प्रार्थना स्थलों और सरकारी केंद्रों को निशाना बना सकते हैं। विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि पिछले कई वर्षों में बड़े पैमाने पर आतंकवादी हमलों से सैकड़ों लोग घायल हुए हैं। अपने नागरिकों से कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से में ना जाने का अनुरोध करते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा कि ऐसा पता चला है कि इलाके में आतंकवादी समूह सक्रिय हैं। उसने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच सशस्त्र संघर्ष का खतरा बना हुआ है। भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच नियंत्रण रेखा पर बार-बार गोलीबारी होती है।

 

पाकिस्तान को अमेरिका ने चेताया

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हुए अमेरिका ने पाकिस्तान से कहा है कि वह तुरंत सभी आतंकवादी समूहों को समर्थन और सुरक्षित पनाह देना बंद करें। पाकिस्तान से गतिविधियां चलाने वाले समूह जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) ने पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी ली है। हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 37 जवान शहीद हुए हैं और कई गंभीर रूप से घायल हैं। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने गुरुवार देर रात जारी एक बयान में कहा, ‘‘अमेरिका पाकिस्तान से अपील करता है कि वह अपनी जमीन से आतंकी गतिविधियां चलाने वाले ऐसे सभी आतंकवादी समूहों को समर्थन और सुरक्षित पनाह देना तुरंत बंद करे जिनका एकमात्र लक्ष्य क्षेत्र में अव्यवस्था, हिंसा और आतंक फैलाना है। उन्होंने कहा कि यह हमला आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका और भारत के सहयोग और साझेदारी को और बढ़ाने के हमारे संकल्प को और मजबूत बनाता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन