विज्ञापन
Home » Economy » InternationalUK lifts cap on phd level work visas

भारतीय पेशेवरों के लिए खुशखबरी, ब्रिटेन ने खत्म की वर्क वीजा की सीमा

यूके सरकार 2021 तक नया इमिग्रेशन सिस्टम लागू करेगी

UK lifts cap on phd level work visas

नई दिल्ली। भारतीय विजाधारकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। यूके सरकार ने विदेशी पीएचडी डिग्रीधारकों को अपने देश में काम करने के लिए वीजा की सीमा खत्म करने का फैसला लिया है। सरकार के इस फैसले से उच्च डिग्रीधारी भारतीय पेशेवरों का काफी हद तक फायदा मिलेगा। यूके के चांसलर फिलिप हैंमड ने  बजट अपडेट में ऐलान किया है। बजट में ऐलान किया है कि इसी वर्ष से उच्च शिक्षा आधारित नौकरियों के लिए ब्रिटेन में आने वाले लोगों की संख्या की सीमा नहीं रहेगी।

पीएचडी लेवल की नौकरियों के लिए वीजा की संख्या की सीमा खत्म की जाएगी- हैमंड


हैमंड ने बताया, 'ब्रिटेन को तकनीकी क्रांति के अगुआ बनाए रखना हमारी योजना का प्रमुख स्तंभ है। इससे हमारी अर्थव्यवस्था का कायाकल्प हो रहा है। और, इस लक्ष्य को साधने लिए पतझड़ के मौसम से हम पीएचडी लेवल की नौकरियों के लिए वीजा की संख्या की सीमा खत्म कर देंगे।' 

टियर 2 की सीमा से मुक्त कर दिया जाएगा


उन्होंने बताया कि ऑटम 2019 से पीएचडी स्तर की नौकरियों को टियर 2 की सीमा से मुक्त कर दिया जाएगा और उसी वक्त 180 दिनों की अनुपस्थिति से संबंधित आव्रजन कानून (इमिग्रेशन रूल्स) भी बदल दिए जाएंगे। अभी यूके के वीजा सिस्टम में टियर 2 स्किल्ड वर्कर्स सेक्शन के तहत सीमित संख्या में वीजा जारी किए जाते हैं। यूके की सरकार 2021 तक नया इमिग्रेशन सिस्टम लागू कर स्किल्ड वर्कर्स के लिए वीजा की संख्या की सीमा पूरी तरह खत्म करना चाहती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन