बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalमोदी का साथ दे रहे हैं ये दो मुस्‍लि‍म देश, फायदा देख चौंके चीन-अमेरि‍का

मोदी का साथ दे रहे हैं ये दो मुस्‍लि‍म देश, फायदा देख चौंके चीन-अमेरि‍का

चीन और पाकि‍स्‍तान हैरान हैं कि‍ आखि‍र मोदी ने इन दोनों मुस्‍लि‍म देशों को कैसे राजी कर लि‍या।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दोस्‍ताना व्‍यवहार और कुशल नेतृत्‍व की बदौलत दो मुस्‍लिम देश भारत को ऐसे क्षेत्र में मदद देने को तैयार हो गए हैं जो कि‍सी भी देश की इकोनॉमी की तस्‍वीर बदल सकता है। सबसे बड़ी बात ये है कि सब केवल कागजी वादे या आश्‍वासन तक सीमि‍त नहीं है बल्‍कि‍ जमीनी हकीकत बन गया है। अमेरि‍का, चीन और पाकि‍स्‍तान तीनों की भूमि‍का, उनकी क्षमता और भवि‍ष्‍य में होने वाली कि‍सी गड़बड़ी के लिहाज से ये फैसले बहुत अहम हैं। अमेरि‍का, चीन और पाकि‍स्‍तान हैरान हैं कि‍ आखि‍र मोदी ने इन दोनों मुस्‍लि‍म देशों को कैसे राजी कर लि‍या।  


10% हि‍स्‍सा लि‍या 
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्‍त अरब अमि‍रात और ओमान की यात्रा पर गए थे। यहां से वह एक दूरगामी असर डालने वाली डील करके लौटे हैं। भारत ने अबूधाबी के ऑयल फील्‍ड में 10% की हि‍स्‍सेदारी हासि‍ल कर ली है। यह तेल का खेल बदलने की दि‍शा में एक बहुत बड़ी शुरुआत है। यह सौदा 60 करोड़ डॉलर  में हुआ है। इसके तहत भारत को हर दि‍न 40 हजार बैरल तेल मि‍लेगा।  आगे पढ़ें इमरजेंसी में भारत का होगा पहला हक 

इमरजेंसी में पहला हक भारत का 


मोदी ने ऐसी डील की है जिसके तहत अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी उडुपी के नजदीक पादुर में 60 लाख  लीटर कच्‍चा तेल स्‍टोर कर पाएगी। इसके बदले भारत को ये अधि‍कार मि‍ला है कि जब भी तेल बाजार में कुछ उठापटक या डि‍स्‍टरबेंस होगा इस तेल पर सबसे पहले भारत का हक होगा। इसका मतलब ये है कि अगर भवि‍ष्‍य में जंग या कि‍सी और तरह के हालात बनते हैं तो भारत की तेल की स्‍पलाई मजबूत बनी रहेगी। आगे पढ़ें ईरान ने कहा, हम बांटने को तैयार हैं 

बांटने को तैयार हो गया ईरान 


ईरान के राष्‍ट्रपति हसन रुहानी इन दि‍नों भारत की यात्रा पर हैं। मोदी ने उन्‍हें तेल और गेस के क्षेत्र में भारत का सहयोगी बनने को तैयार कर लि‍या है। ईरान के राष्‍ट्रपति ने खुद कहा कि वह भारत के साथ अपना तेल और नेचुरल गैस बांटने को तैयार है। 
हैदराबाद की मक्‍का मस्‍जि‍द में मौजूद लोगों को संबोधि‍त करते हुए उन्‍होंने कहा कि‍ ईरान के पास तेल और नेचुरल गैस बहुत बड़ी मात्रा में है। ईरान भारत की तरक्‍की के लि‍ए अपने तेल और गैस में भारत को भी हि‍स्‍सा देने को तैयार है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट