बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalप्रोफेसर स्‍टीफन हॉकिंग का निधन, दुनिया को समझाई थी ब्‍लैकहोल और बिगबैंग थ्‍योरी

प्रोफेसर स्‍टीफन हॉकिंग का निधन, दुनिया को समझाई थी ब्‍लैकहोल और बिगबैंग थ्‍योरी

वह 76 साल के थे। उनके निधन की जानकारी परिवार के हवाले से आई है।

1 of

नई दिल्‍ली. आधुनिक विश्‍व के सबसे प्रतिष्ठित वैज्ञानिक स्‍टीफन हाकिंग का निधन हो गया। वे 76 साल के थे। हॉकिंग ने सापेक्षता, ब्लैकहोल और बिगबैंग थ्योरी को समझने में अहम योगदान दिया था। उनके पास 12 मानद डिग्रियां थीं और अमेरिका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान उन्हें दिया गया। यूनिवर्सिटी ऑफ कैम्ब्रिज में गणित और सैद्धांतिक भौतिकी के प्रोफेसर रहे स्टीफन हाकिंग की गिनती आईंस्टीन के बाद सबसे बड़े  भौतकशास्त्रियों में होती है। 

 

 

बच्‍चों ने कहा- पिता महान वैज्ञ‍ानिक और असाधारण इंसान थे

हाकिंग के निधन की जानकारी परिवार के हवाले से आई है। हाकिंग के तीनों बच्‍चों लूसी, रोबर्ट और टिम की ओर से जारी एक साझा बयान में कहा गया कि उनकी मौत से परिवार को गहरा धक्‍का लगा है।उन्‍होंने कहा कि उनके पिता एक महान वैज्ञ‍ानिक और असाधारण इंसान थे। उनकी ओर से किए गए काम को सालों तक याद किया जाएगा। बता दें कि हॉकिंग पर 'थियरी ऑफ एवरी थिंग्‍स' के नाम से फिल्‍म भी बन चुकी है। इसमें मशहूर अभिनेता एडी रेडमैन ने उनकी भूमिका निभाई थी।  

 

1963 में मोटर न्‍यूरॉन डिसीज का शिकार

बता दें, हाकिंग1963 में मोटर न्‍यूरॉन डिसीज का शिकार हो गए थे। उस वक्‍त हाकिंग मात्र 22 साल के थे। दावा किया गया कि वह अगले 2 साल में उनकी मौत हो जाएगी, हालांकि वह इस दावे को गलत साबित करते हुए हॉकिंग कैंम्ब्रिज गए और अल्‍बर्ट आइंस्‍टाइन के बाद दुनिया के सबसे महान थियोरिटिक साइंटिस्‍ट बनकर उभरे।  हालांकि इस बीमारी के चलते वह हमेशा के लिए व्‍हील चेयर पर लगे गए और बोलने में भी असमर्थ भी हो गए। दुनिया उनकी बातें वॉयस सिंथेसाइजर के जरिए ही जान पाती थी। 

 

किताब की बिकी थी 1 करोड़ कॉपियां 

हाकिंग ने साइंस पर कई मशहूर किताबें भी लिखीं। इसमें सबसे मशहूर 'ए ब्रीफ हिस्‍ट्री ऑफ टाइम' रही है। 1998 में आई उनकी लिखी गई इस किताब की अब तक 1 करोड़ कॉपियां बिक चुकी हैं। उन्हें थियरी ऑफ कॉस्‍मोलॉजी के लिए भी जाना जाता है।  हाकिंग ने दुनिया को ब्‍लैक होल लीक एनर्जी का सिद्धांत दिया। बाद में उनके इस सिद्धांत को हाकिंग रेडिशन का नाम दिया गया।   

 

हाकिंग से जुड़ी कुछ और बातें 

- 8 जनवरी 1942 को ब्रिटेन के ऑक्‍सफोर्ड में जन्‍म हुआ। 

- 1959 में नैचुरल साइंस की पढ़ाई के लिए ऑक्‍सफोर्ड गए, जबकि उन्‍होंने अपनी PhD कैंम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से पूरी की।

- 1947 में उन्‍होंने हाकिंग रेडिएशन का सिद्धांत दिया। 

- 1994 में उनके जीवन पर एक फिल्‍म बनी। इसका नाम थ्‍योरा ऑफ एवरीथिंक था। 

- हाकिंग कई टीवी शो में भी दिखाई पड़े। इसमें The Simpsons, Red Dwarf and The Big Bang Theory शामिल है। 

- इसके चलते वह एकैडमिक दुनिया के अलावा आम लोगों के बीच बेहद पॉपुलर हो गए। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट