बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalदौलत और पावर का खेल, सऊदी शाहजादे ने मां को किया कैद

दौलत और पावर का खेल, सऊदी शाहजादे ने मां को किया कैद

करीब एक दर्जन अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से NBC न्‍यूज ने इस खबर का खुलासा किया है....

1 of

नई दिल्‍ली. पावर गेम में औरंगजेब जैसे क्राउन प्रिंस की ओर से अपने पिता शाहजहां को कैद करने की बात तो आपने सुनी होगी, लेकिन सऊदी प्रिंस मोहम्‍मद बिन सलमान ने अपनी मां को ही कैद कर लिया है। करीब एक दर्जन अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से NBC न्‍यूज ने इस खबर का खुलासा किया है। बता दें कि पिछले साल नवंबर में प्रिंस के इशारे पर देश के दर्जन भर क्रांउन प्रिंस और रसूखदार लोगों को भ्रष्‍टाचार के आरोप में कैर किया गया था। जिन क्राउन प्रिंस को कैद किया गया उनमें ज्‍यादार प्रिंस मुहम्‍मद के चचेरे भाई थे।  

अमेरिकी अधिकारियों को मानना है कि प्रिंस मुहम्‍मद बिन सलमान को डर है कि उनकी मां उनकी पावर के आड़े आ सकती हैं। इसी के चलते प्रिंस ने अपनी मां  को कैद कर लिया है। हालांकि इस खबर की पुष्टि नहीं हो पाई है। खबर में कहा गया है कि प्रिंस ने अपनी मां फलाहा अल हाथलीन को किसी महल में कैद किया है। इस बात की जानकारी किंग सलमान को भी नहीं दी गई है।

 

मां छिनवा सकती है पावर 

प्रिंस को चिंता है कि सऊदी अरब की सत्‍ता पर और ज्‍यादा पकड़ बनाने की उनकी महत्‍वकांक्षा का मां फलाहा अल हाथलीन विरोध कर सकती हैं। वह उनके पिता पर इस बात का दबाव डाल सकती हैं कि वो उनके बेटे की पर कतरें। इसी के चलते वह अपनी मां को पिता से नहीं मिलने दे रही हैं। अधिकारियों का यह भी दावा है कि अमेरिका में जब ओबामा प्रशासन सत्‍ता में था, तभी से प्रिंस अपनी मां की बाहरी दुनिया में गैर मैजूदगी के सवाल पर बहाने बनाते आ रहे हैं।  

 

 

किंग भी कुछ बोलने को राजी नहीं 

प्रिंस मोहम्‍मद के पिता किंग सलमान भी अपनी पत्‍नी को लेकर गोल मोल बयान देते रहे हैं। वह कई मौकों दावा कर चुके हैं कि स्‍वास्‍थ्‍य वजहों से उनकी पत्‍नी लंबे समय से देश से बाहर हैं। 2015 में जब वह व्‍हाइट हाउस के दौर पर गए थे, तब भी उन्‍होंने यही कहा था कि प्रिंस मोहम्‍मद की मां और उनकी पत्‍नी न्‍यूयॉर्क सिटी में हैं। हालांकि अमेरिकी खुफिया अधिकारियों का दावा है कि किंग की पत्‍नी अमेरिका में नहीं है। NBC की इस रिपोर्ट पर कई अमेरिकी इंटेलिजेंस अधिकारियों ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है। वहीं सऊदी अरब में मौजूद अमेरिकी एंबेसी ने भी इस खबर से इनकार किया है। 

 

 

सत्‍ता पर मजबूत हुई है प्रिंस की पकड़ 

बता दें कि हाल के दौर में सऊदी अरब की सत्‍ता पर प्रिंस मुहम्‍मद की पकड़ तेजी के साथ मजबूत हुइ है। 32 वर्षीय प्रिंस के आदेश पर ही दर्जनों अन्‍य राजकुमारों को भ्रष्‍टाचार के आरोप में कैद कर दिया गया। 2017 में मुहम्‍मद को उनके चेचेरे भाई की जगह क्राउन प्रिंस बनाया गया था। इससे पहले वह देश के रक्षा मंत्री और डिप्‍टी क्रांउन प्रिंस का ओहदा संभाल चुके थे। 

42 लाख करोड़ रुपए की सत्‍ता का खेल 

दरअसल सऊदी अरब दुनिया के उन देशों में शामिल है, जहां राजशाही है। मौजूदा समय में करीब 42 लाख करोड़ रुपए (646 अरब डॉलर) की जीडीपी वाले सऊदी अरब को चलाने वाले इस शाही परिवार को हाउस ऑफ अल सौद कहा जाता है। इसकी शुरुआत किंग अब्‍दुल अजीज अलसौद ने की थी। अभी तक अल सौद के बेटे ही सऊदी सत्‍ता पर काबिज होते रहे हैं। किंग सलमान अल सौद के आखिरी जीवित पुत्र हैं। इसके चलते तीसरी पीढ़ी की दावेदारी बढ़ रही है। ऐसे में प्रिंस मुहम्‍मद बिन सलमान को लगता है कि अगर सत्‍ता पर उनकी पकड़ मजबूत हुई तो वह देश की सत्‍ता पर काबिज हो सकते हैं। हाल में अपने चेचेरे भाईयों को भ्रष्‍टाचार में कैद करने की बात हो या फिर मां को कैद करने का मामला। उनके हर कदम को सत्‍ता के गेम से जोड़ा जाता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट