विज्ञापन
Home » Economy » InternationalPM Modi To Officially Inaugurate Petrotech-2019 On 11 February

प्रधानमंत्री मोदी कल करेंगे 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल और गैस सम्मेलन का औपचारिक उद्घाटन, 70 देशों के 7000 प्रतिनिधि होंगे शामिल

पेट्रोटेक-2019 को भारत का प्रमुख हाइड्रोकार्बन सम्मेलन माना जाता है

PM Modi To Officially Inaugurate Petrotech-2019 On 11 February

Petrotech-2019: 11 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित एक्सपो मार्ट में पेट्रोटेक-2019 यानी 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल और गैस सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे और उद्घाटन सत्र को संबोधित भी करेंगे। पेट्रोटेक-2019 को भारत का प्रमुख हाइड्रोकार्बन सम्मेलन माना जाता है। इसका आयोजन भारत सरकार के पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में किया जा रहा है।

नई दिल्ली.

11 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित एक्सपो मार्ट में पेट्रोटेक-2019 यानी 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल और गैस सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे और उद्घाटन सत्र को संबोधित भी करेंगे। पेट्रोटेक-2019 को भारत का प्रमुख हाइड्रोकार्बन सम्मेलन माना जाता है। इसका आयोजन भारत सरकार के पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में किया जा रहा है।

 

70 देशों के 7000 प्रतिनिधि लेंगे भाग

10 से 12 फरवरी 2019 तक आयोजित इस तीन दिवसीय वृहद कार्यक्रम में भारत के तेल और गैस क्षेत्र में हाल के बाजार और निवेशकों के अनुकूल विकास को दर्शाया जाएगा। पेट्रोटेक-2019 में साझेदार देशों के 95 से अधिक ऊर्जा मंत्रियों और लगभग 70 देशों के 7000 प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं। 

 

प्रदर्शनी भी होगी आयोजित

सम्मेलन के साथ-साथ, इंडिया एक्सपो मार्ट, ग्रेटर नोएडा में 20,000 वर्ग मीटर में फैली एक प्रदर्शनी भी आयोजित होगी। पेट्रोटेक-2019 प्रदर्शनी में मेक इन इंडिया और अक्षय ऊर्जा थीम पर विशेष क्षेत्रों के साथ-साथ 40 से अधिक देशों के 13 से अधिक देशी मंडप और लगभग 750 प्रदर्शक शामिल होंगे।

 

पिछले साल ग्लोबल हाइड्रोकार्बन कंपनियों को दियाा था न्योता

प्रधानमंत्री ने पिछले 5 दिसंबर, 2016 को पेट्रोटेक - 2016 के 12वें आयोजन का उद्घाटन किया था।प्रधानमंत्री ने कहा, "भारत के ऊर्जा भविष्य के लिए मेरी दृष्टि में चार स्तंभ हैं: ऊर्जा पहुंच, ऊर्जा दक्षता, ऊर्जा स्थिरता और ऊर्जा सुरक्षा।" प्रधानमंत्री ने ग्लोबल हाइड्रोकार्बन कंपनियों को भी मेक इन इंडिया में आने का न्योता दिया और उन्हें भरोसा दिलाया कि हमारा मकसद रेड टेप के स्थान पर रेड कारपेट तैयार करना है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन