Home » Economy » InternationalPakistani rupee slides down to lowest value against dollar

जमीन में धंसता जा रहा है पाकिस्तानी रुपया, 1 डॉलर का मूल्य 144 रुपए

पाकिस्तान की मुद्रा शुक्रवार को अब तक के सबसे निचले स्तर तक गिर गई।

1 of

नई दिल्ली

विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की मुद्रा शुक्रवार को अब तक के सबसे निचले स्तर तक गिर गई। एक डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये की विनिमय दर 144 रुपये प्रति डालर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गई। पाकिस्तानी रुपये में यह गिरावट पाकिस्तान की इमरान खान के नेतृत्व वाली नई सरकार के सत्ता में 100 दिन पूरे होने के एक दिन बाद आई है। इमरान खान की सरकार इन सौ दिनों में देश में निवेश बढ़ाने और उसे विकास के रास्ते पर लाने की उपलब्धि गिना रही है।

एजेंसी की खबरों के मुताबिक पिछले बृहस्पतिवार को डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया 134 पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान मुद्रा विनिमय बाजार में शुक्रवार को यह 10 रुपये और टूट गया। शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में यह 142 के स्तर पर खुला लेकिन दिन में और दो रुपये टूटकर 144 के स्तर तक गिर गया।

 

स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान ने पीटीआई से कहा, ‘‘ बाजार में अफरा-तफरी का माहौल और डाॅलर लिवाली का जोर हैलेकिन इसका समाधान कर लिया जाएगा।’’ माना जा रहा है कि सरकार के अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से ऋण लेने पर चल रही बातचीत को देखते हुये यह गिरावट आई है। विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने हाल ही में मुद्रा कोष से राहत पैकेज की मांग की है। इस पर मुद्रा कोष ने पाकिस्तान से चीन से मिलने वाली वित्तीय सहायता की पूरी जानकारी मांगी है। इसके साथ ही अर्थव्यवस्था की मजबूती के वास्ते ईंधन के दाम बढ़ाने और कर दरों में वृद्धि करने को कहा है। पाकिस्तान की एक्सचेंज कंपनियों के संघ के महासिचव जफर प्राचा ने कहा कि आईएमएफ के साथ कोई भी समझौता होने से पहले गिरावट जारी रहने की उम्मीद है।

 

आगे पढ़ें- पाकिस्तानी पीएम बनाएंगे नए कानून

 

 

पाकिस्तानी पीएम बनाएंगे नए कानून

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश में धन शोधन (मनी लॉन्ड्रिंग समेत अन्य भ्रष्टाचार गतिविधियों) से प्रभावी रूप से निपटने के लिए एक नया कानून बनाए जाने की जरुरत पर बल दिया है। उनका कहना है कि ऐसी गतिविधियों से आर्थिक तंगी से जूझ रही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पर और भी बुरा असर पड़ रहा है। 

पाकिस्तान के अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की एक खबर में कहा गया है कि ऐसे कानून का मसौदा एक सप्ताह में तय कर लिया जाएगा। इसमें हवालाहुंडी और अन्य गैर-कानूनी लेन देन एवं भ्रष्ट गतिविधियों से निपटने के मौजूदा प्रावधानों को मजबूत बनाया जाएगा। 

 

आगे पढ़ें- मौजूदा कानूनाें में होंगे संशोधन 

 

 

मौजूदा कानूनाें में होंगे संशोधन 


रिपाेर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री कार्यालय में शुक्रवार को हुई उच्च-स्तरीय बैठक के दौरान इस संबंध में फैसला लिया गया। बैठक में प्रधानमंत्री ने वैध माध्यमों के जरिए धन भेजने को प्रोत्साहित करने के लिए एक योजना पैकेज को भी मंजूरी दी। बैठक में तय किया गया कि धन शोधन रोधी अधिनियम 2010 समेत मौजूदा कानूनों में जरूरी संशोधन किये जाएंगे।

बैठक के दौरान निर्णय लिया गया है कि बैंकिंग नियामक स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान देश में फर्जी बैंक खाते खोलने और उसके परिचालन में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट