विज्ञापन
Home » Economy » InternationalSushma Swaraj talks Terrorism at OIC

OIC के 57 देशों के साथ 1.5 लाख करोड़ से ज्यादा का कारोबार करता है भारत, इसलिए मिली पाकिस्तान से ज्यादा इज्जत

पाकिस्तान की धमकी के आगे नहीं झुका OIC

1 of

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज संयुक्त अरब अमीरात में इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) में विदेश मंत्रियों की बैठक शुरू हो गई है। सुषमा स्वराज अबू धाबी में बैठक के उद्घाटन सत्र को सम्मानित अतिथि के रूप में संबोधित कर रही हैं। अधिकारियों ने इस बैठक में भारत को आमंत्रित किए जाने को अरब और मुस्लिम-बहुल देशों के साथ संबंधों को मजबूत करने के प्रयासों में विदेश नीति की महत्वपूर्ण सफलता बताया है।  उन्हें 1-2 मार्च को होने वाले सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में बतौर विशिष्ट अतिथि (गेस्ट ऑफ ऑनर) बुलाया गया है।

 

OIC के साथ भारत का एक लाख 63 हजार करोड़ का व्यापार

 

इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) का गठन 1969 में किया गया था और पाकिस्तान इसका संस्थापक सदस्य देश है।  इस संगठन में 57 सदस्य हैं, जिसमें 40 मुस्लिम बाहुल्य देश हैं। इस लिहाज से संयुक्त राष्ट्र के बाद यह दूसरा बड़ा अंतर सरकारी संगठन है। OIC में पाकिस्तान को नजरअंदाज करते हुए भारत को महत्व देने के पीछे एक बड़ा कारण यह है कि 57 सदस्यीय समूह के साथ भारत का व्यापार एक लाख 63 हजार करोड़ का है और इन देशों में 12 मिलियन भारतीय रहते हैं। इस मंच पर भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को बुलाया जाना इसलिए भी अहम है क्योंकि 50 साल बाद भारत को न्योता दिया है।

भारत ने लिया 'गेस्ट ऑफ ऑनर' के रूप में हिस्सा


भारत की तरफ से बालाकोट में मुंह की खाने के बाद अब पाकिस्तान को इस्लामिक देशों के संगठन ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉपरेशन (OIC) में भी जिल्लत सहनी पड़ी है। अबुधाबी में चल रही OIC की बैठक में भारत की मौजूदगी का पाकिस्तान ने बहिष्कार किया है। सूत्रों के मुताबिक, स्वराज, पाकिस्तान की आपत्तियों के बावजूद 'गेस्ट ऑफ ऑनर' के रूप में हिस्सा लेंगे और OIC के सदस्य देशों के साथ भारत के लंबे और ऐतिहासिक संबंधों को बताएंगे। यह सम्मेलन भारत यूएई के साथ अपने द्विपक्षीय संबंधों को लेकर काफी महत्वपूर्ण मानता है।

 

 

पाकिस्तान की धमकी के आगे नहीं झुका OIC


पाकिस्तान ने OIC के महासचिव यूसेफ बिन अहमद अल-ओथाइमेन को एक पत्र लिखकर सम्मेलन का बहिष्कार करने की धमकी दी थी। पाकिस्तान की धमकी के आगे OIC ने झुकने से इनकार कर दिया। बता दें कि बुधवार की सुबह पाकिस्तान ने एयरस्ट्राइक करने की कोशिश की। जवाब में भारत ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया। इस दौरान भारत का मिग -21 जेट भी दुर्घटना का शिकार हो गया और उसके पायलट विंग कमाडंर अभिनंदन को पाकिस्तान ने युद्धबंदी बना लिया।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss