Advertisement
Home » Economy » InternationalPakistan defence budget

पाकिस्तान को सता रहा ये डर, कर्ज के बावजूद खर्च बढ़ाने को हुआ मजबूर 

पाक मंत्री ने रेवेन्यू बढ़ाने पर दिया जोर

Pakistan defence budget

नई दिल्ली. पाकिस्तान इन दिनों घोर वित्तीय संकट से जूझ रहा है। इसके चलते इमरान सरकार ने सरकारी खर्चों में 10 फीसदी की कटौती का ऐलान किया था। लेकिन इससे भी बात न बनी। अब सरकार ने ज्यादा रेवेन्यू इकट्ठा किए जाने पर जोर दिया है। दरअसल पाकिस्तान वित्तीय संकट के बावजूद अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ाना चाहता है। इसके पीछे भारत सरकार की ओर से रक्षा बजट पर खर्च बढ़ाने का डर हो सकता है। 

 

भारत के मुकाबले कम रक्षा बजट पर जताई चिंता

द डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कैबिनेट मीटिंग के बाद भारत का नाम लिए बगैर कहा कि पाकिस्तान का रक्षा बजट इलाके बाकी देशों के मुकाबले काफी कम है, जिसमें बढ़ोत्तरी की जरूरत है। उन्होंने कहा पाकिस्तान की सुरक्षा के लिए डिफेंस बजट बढ़ाना होगा। इलके लिए हमें ज्यादा रेवेन्यू की जरूरत होगी। 

 

यूएई को छोड़कर किसी भी देश ने नहीं की पाकिस्तान की मदद 

पाकिस्तान में इमरान सरकार के सत्ता में आने के बाद से वित्तीय सुधार के लिए कई कोशिशें की गई है, उनकी ओर से कई देशों से मदद की गुहार भी लगाई गई। लेकिन यूएई को छोड़कर कोई भी देश मदद को आगे नहीं आया था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss