बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalपाकि‍स्‍तान ने मोदी को भेजा 1.50 लाख का बि‍ल, नवाज शरीफ को बर्थडे वि‍श कि‍या था

पाकि‍स्‍तान ने मोदी को भेजा 1.50 लाख का बि‍ल, नवाज शरीफ को बर्थडे वि‍श कि‍या था

पाकि‍स्‍तान की ओर से गुजरने के लि‍ए पाक ने भारत को 2.86 लाख रुपए का बिल थमाया था।

1 of
नई दि‍ल्‍ली। पाकि‍स्‍तान के तत्‍कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बर्थडे वि‍श करने के लि‍ए पाक ने भारत के पीएम मोदी से 1.50 रुपए का बि‍ल लि‍या है, जबकि‍ खुद शरीफ ने मोदी को आमंत्रि‍त कि‍या था।  इतना ही नहीं रूस, अफगानिस्तान, ईरान और कतर की यात्राओं के दौरान पाकि‍स्‍तान की ओर से गुजरने के लि‍ए पाक ने भारत को 2.86 लाख रुपए का बिल थमाया था। जानकारी के मुताबिक पीएम की जून 2016 तक 11 देशों- नेपाल, भूटान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, कतर, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, रूस, ईरान, फिजी और सिंगापुर  की यात्रा में वायुसेना के विमान का उपयोग किया गया था। इस दौरान भारतीय वि‍मान पाकि‍स्‍तान के ऊपर से गुजरा था, जि‍सके लि‍ए पाक ने बि‍ल वसूला। हालांकि‍ सबसे खास रहा वो बि‍ल जो पीएम को तब पाकि‍स्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बर्थडे वि‍श करने की एवज में भरना पड़ा।  आगे पढ़ें 

नवाज ने कि‍या था आग्रह 


रूस और अफगानिस्तान से लौटते समय नवाज शरीफ के जन्मदिन पर 25 दिसंबर 2015 को पीएम अचानक लाहौर रुके थे। नवाज के आग्रह पर हुई इस यात्रा के दौरान उनके रूट नेविगेशन का 1.49 लाख का बिल पाकिस्तान ने दिया है।  मोदी का स्‍वागत खुद नवाज शरीफ ने लाहौर के आलमा इकबाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर कि‍या था, जब वह अचानक वहां आ गए। तब मोदी रूस और अफगानि‍स्‍तान से होकर भारत लौट रहे थे। उनका वि‍मान शाम को 4.50 पर उतरा था। उसके बाद वह हैलीकॉप्‍टर से नवाज शरीफ के रावलपिंडी स्‍थि‍त घर गए थे, जहां उनके जन्‍मदि‍न का सेलीब्रेशन हुआ था।  आगे पढ़ें कैसे हुआ खुलासा 

आरटीआई से मि‍ली जानकारी 


एक्टिविस्ट कोमोडोर (रिटायर) लोकेश बत्रा की आरटीआई अर्जी के जवाब में यह जानकारी सामने आई है।  जानकारी के मुताबि‍क,  2016 में 22-23 मई को ईरान और 4-6 जून को कतर की यात्रा के रूट का नेविगेशन चार्ज 77215 रुपए भेजा है। दोनों यात्रा में पीएम का विमान पाकिस्तान के ऊपर से गया था। जून 2016 तक पीएम की विदेश यात्राओं में वायुसेना के विमान के इस्तेमाल का कुल खर्च 2 करोड़ रुपए बताया गया है। नेवि‍गेशन चार्ज का बि‍ल वि‍देश मंत्रालय भरता है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट