बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalभारत के 'छोटे भाई' ने चीन से कर डालीं 8 डील, भारत से कि‍ए थे केवल 3 पैक्‍ट

भारत के 'छोटे भाई' ने चीन से कर डालीं 8 डील, भारत से कि‍ए थे केवल 3 पैक्‍ट

भारत के पड़ोसी देश नेपाल के साथ चीन अपनी नजदीकि‍यां लगातार बढ़ा रहा है।

Nepal and China sign 8 deals worth $2.24 bn

नई दि‍ल्‍ली। भारत के पड़ोसी देश नेपाल के साथ चीन अपनी नजदीकि‍यां लगातार बढ़ा रहा है। इन दि‍नों नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली चीन की यात्रा पर हैं। यात्रा के दूसरे ही दि‍न चीन ने नेपाल के साथ 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते कर लि‍ए। ये समझौते दोनों सरकारों और निजी क्षेत्रों के बीच हुए, जहां चीनी निवेशक पनबिजली परियोजनाओं, जल संसाधनों, सीमेंट कारखानों और फलों की खेती और कृषि में निवेश करेंगे। 


यह समझौते यहां नेपाल के दूतावास में हुए। ओली और चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग के बीच प्रतिनिधमंडल स्तर की  वार्ता के बाद अतिरिक्त समझौता ज्ञापन (एमयू) पर हस्ताक्षर होंगे। ओली का फरवरी में सत्तासीन होने के बाद चीन का उनका पहला आधिकारिक दौरा है। 


भारत के साथ कि‍ए थे 3 समझौते
प्रधानमंत्री का पद संभालने के बाद ओली 6 अप्रैल 2018 को भारत आए थे। उनकी इस यात्रा के दौरान 3 समझौतों पर हस्‍ताक्षर हुए थे।  इनमें भारतीय सीमाई इलाके को काठमांडू से जोड़ने वाला रेल प्रोजेक्‍ट, नेपाल में कृषि‍ वि‍कास और जल मार्ग प्रोजेक्‍ट शामि‍ल है। तीन दि‍न की इस यात्रा के दौरान ओली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहि‍त अन्‍य नेताओं से मि‍ले थे। भारत शुरू से ही नेपाल के साथ बड़े भाई जैसे संबंध रखता है। 


ओली ने पहले ही इशारा कर दि‍या था

वर्ष 2015 में भारत और नेपाल के बीच संबंधों में उस वक्‍त कड़वाहट आ गई थी, जब नए संवि‍धान की वजह से दक्षिणी नेपाल में जबरदस्‍त वि‍रोध प्रदर्शन शुरू हो गया था। उस समय भारत और नेपाल एक दूसरे से कट गए थे और नेपाल में खानेपीने का सामान, गैस, दवाएं सहि‍त रोजमर्रा के सामान की भारी कि‍ल्‍लत पैदा हो गई थी। करीब एक महीने तक ऐसा चला। 
ओली ने तब कहा था कि‍ यह सब भारत के इशारे पर हो रहा है। ओली इस फरवरी में दोबारा सत्‍ता में लौटे तो उन्‍होंने यह इशारा कर दि‍या था कि‍ वह भारत के अलावा अन्‍य विकल्‍पों को भी मजबूत करेंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट