बिज़नेस न्यूज़ » Economy » InternationalSEZ यूनिट्स का एक्सपोर्ट 38 फीसदी बढ़ा, मई में 29,000करोड़ रहा एक्सपोर्ट

SEZ यूनिट्स का एक्सपोर्ट 38 फीसदी बढ़ा, मई में 29,000करोड़ रहा एक्सपोर्ट

स्पेशल इकोनॉमिक जोन (सेज) का मई महीने का एक्सपोर्ट 38 फीसदी बढ़कर 29,236 करोड़ रुपए रहा।

SEZ Units export increased by 38 percent - SEZ यूनिट्स का एक्सपोर्ट 38 फीसदी बढ़ा

नई दिल्ली। स्पेशल इकोनॉमिक जोन (सेज) का मई महीने का एक्सपोर्ट 38 फीसदी बढ़कर 29,236 करोड़ रुपए रहा। एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल फॉर ईओयू और सेज (ईपीसीईएस) के मुताबिक बायोटेक, केमिकल्स, फार्मास्यूटिकल्स, कंप्यूटर्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, नॉन कन्वेन्शनल एनर्जी, प्लास्टिक, रबड़, ट्रेडिंग और सर्विस के एक्सपोर्ट में अच्छी ग्रोथ हुई है।

 

SEZ यूनिट्स का बढ़ा एक्सपोर्ट

 

अप्रैल और मई में इन स्पेशल इकोनॉमिक जोन से एक्सपोर्ट 11 फीसदी बढ़कर 1.01 लाख करोड़ रुपए रहा। ईपीसीईएस के कार्यवाहक चेयरमैन विनय शर्मा ने कहा कि सेज से एक्सपोर्ट में ग्रोथ इन एरिया की इकोनॉमी में ग्रोथ के बारे में बता रहे हैं। सेज से एक्सपोर्ट 2017-18 में एक्सपोर्ट 15 फीसदी बढ़कर 5.52 लाख करोड़ रुपए बढ़ा है। हालांकि, हांग कांग, अफ्रीका, केन्या और ओमान में नेगेटिव ट्रेंड देखने को मिला है।

 

SEZ यूनिट्स को मिलते हैं कई बेनेफिट्स

 

सेज में लगी यूनिट्स को कई तरह के बेनेफिट्स मिलते हैं। इन्हें इंपोर्ट के लिए लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ती और कस्टम एक्सपोर्ट और इंपोर्ट पर रेग्युलरी चेकिंग नहीं करता। सेज यूनिट्स को कई डायरेक्ट और इनडायरेक्ट बेनेफिट्स मिलते हैं।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट