बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalनरेंद्र मोदी दुनिया के 10 सबसे शक्तिशाली लोगों में शामिल, पुतिन को पीछे छोड़ शी जिनपिंग टॉप पर

नरेंद्र मोदी दुनिया के 10 सबसे शक्तिशाली लोगों में शामिल, पुतिन को पीछे छोड़ शी जिनपिंग टॉप पर

फोर्ब्‍स ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दुनिया के 10 शक्तिशाली लोगों में शामिल किया है। मोदी को 9वां स्‍थान मिला है।

1 of

न्‍यूयार्क. फोर्ब्‍स ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दुनिया के 10 शक्तिशाली लोगों में शामिल किया है। मोदी को 9वां स्‍थान मिला है। वहीं, इस लिस्‍ट में रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन को पीछे छोड़ते हुए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पहला स्थान हासिल किया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब चीन के राष्‍ट्रपति ने पु‍तिन को पीछे छोड़ यह रुतबा हासिल किया। फोर्ब्स की तरफ से साल 2018 के लिए उन 75 सबसे पावरफुल लोगों की लिस्‍ट जारी की गई है, जिन्‍होंने दुनिया में बदलाव लाया। 

 

मोदी को क्‍यों मिली टॉप 10 पावरफुल लोगों में जगह  
फोर्ब्स का कहना है कि मोदी दुनिया की दूसरी सर्वाधिक आबादी वाले देश का सबसे लोकप्रिय चेहरा हैं। उसने मोदी सरकार के नवंबर 2016 के उस फैसले का हवाला दिया जिसमें ब्‍लैकमनी और करप्‍शन को रोकने के लिए नोटबंदी का फैसला किया गया था। फोर्ब्‍स का कहना है कि हाल के कुछ सालों में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनॉल्‍ड ट्रम्‍प और चीनी प्रेसिडेंट शी जिनपिंग के साथ आधिकारिक यात्रा कर बतौर ग्‍लोबल लीडर अपनी प्रोफाइल मजबूत की है। फोर्ब्‍स के मुताबिक, मोदी की छवि क्‍लाइमेंट चेंज के मसले के समाधान के वैश्विक प्रयासों में एक महत्‍वपूर्ण व्‍यक्ति के रूप में उभरी है। 

 

चार साल बाद पुतिन टॉप पोजिशन से खिसके 
फोर्ब्‍स की सबसे शक्तिशाली लोगों की लिस्‍ट में लगातार चार साल तक टॉप पर रहने वाले पुतिन इस बार शी जिनपिंग से पिछड़ गए। उन्‍हें दूसरे स्‍थान ही मिला। जिनपिंग को टॉप रैंक मिलने की सबसे बड़ी वजह बीते मार्च में चीन के संविधान में चीनी कांग्रेस की ओर किए गया संशोधन रहा। इसके बाद  जिनपिंग का प्रभाव बढ़ा और देश का राष्‍ट्रपति रहने की निश्चित अवधि की बाध्‍यता उनके लिए समाप्‍त हो गई। जिनपिंग को पहली बार यह रुतबा हासिल हुआ है। फोर्ब्‍स का कहना है कि चीन के संस्‍थापक कहे जाने वाले माओ के बाद से सिर्फ जिनपिंग के व्‍यक्तित्‍व में ही इस तरह का प्रभाव दिखाई दिया है। 

 

10 करोड़ लोगों में एक का चयन 
फोर्ब्स का कहना है कि धरती पर करीब 7.5 अरब लोग हैं लेकिन इनमें से ये 75 महिलाएं और पुरुष दुनिया का रूख बदलते हैं। दुनिया के सबसे ताकतवार लोगों को लेकर फोर्ब्स की सालाना रैंकिंग में प्रत्येक 10 करोड़ लोगों में से एक को चुना जाता है, जिसका एक्शन खास मायने रखता है। 

 

जुकरबर्ग और थेरेसा मे से आगे मोदी 
फोर्ब्‍स की इस लिस्‍ट में 67 वर्षीय पीएम नरेंद्र मोदी फेसबुक सीईए मार्क जकरबर्ग (13वां रैंक), ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे (14वां रैंक), चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग (15वां रैंक) और एप्पल के सीईओ टिम कुक (24वां रैंक) से आगे हैं।

 

मुकेश अंबानी को मिली 32वीं रैंक 
फोर्ब्‍स की इस लिस्‍ट में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लि‍मिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी एक और भारतीय हैं, जिन्‍हें 41.2 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ 32वीं रैंक मिली है। वहीं, माइक्रोसॉफ्ट के भारत में पैदा हुए सीईओ सत्य नडेला को इस सूची में 40वां स्थान दिया गया है।

 

दुनिया के 10 सबसे शक्तिशाली 

 

1. शी जिनपिंग- चीन के राष्‍ट्रपति 
2. ब्‍लादिमीन पुतिन- रूस के राष्‍ट्रपति
3. डोनॉल्‍ड ट्रम्‍प- अमेरिका के के राष्‍ट्रपति
4. एंजेला मर्केल- जर्मन चांसलर 
5. जेफ बेजोस- फाउंडर अमेजन 
6. पोप फ्रांसिस- पोप रोमन कैथलिक चर्च 
7. बिल गेट्स- कोफाउंडर, बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन 
8. मोहम्‍मद बिन सलमान अल सउद, क्राउन प्रिंस सऊदी अरब 
9. नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत 
10. लैरी पेज, कोफाउंडर अल्‍फाबेट 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट