बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalये है पाकिस्‍तान का 'मिनी इंडिया', यहां धड़ल्ले से बिकते हैं इंडियन प्रोडक्‍ट

ये है पाकिस्‍तान का 'मिनी इंडिया', यहां धड़ल्ले से बिकते हैं इंडियन प्रोडक्‍ट

भले ही भारत और पाकिस्‍तान के बीच कई मसलों पर तनातनी हो लेकिन बिजनेस के मोर्चे पर आज भी दोनों देशों के संबंध अच्‍छे हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. भले ही भारत और पाकिस्‍तान के बीच कई मसलों पर तनातनी हो लेकिन बिजनेस के मोर्चे पर आज भी दोनों देशों के संबंध अच्‍छे हैं। शायद यही वजह है कि भारत ने पाकिस्‍तान को बिजनेस के लिहाज से मोस्‍ट फेवर्ड नेशन का दर्जा दिया हुआ है और दोनों देशों के बीच कई चीजों का एक्‍सपोर्ट-इंपोर्ट होता है। पाकिस्‍तान के अंदर एक ऐसी जगह मौजूद है, जहां भारत के प्रॉडक्‍ट धड़ल्‍ले से बिकते हैं। लाहौर में मौजूद इस मिनी इंडिया कहलाने वाली मंडी में लक्‍स साबुन से लेकर हाजमोला तक सारे जाने-माने भारतीय प्रॉडक्‍ट खरीदे जा सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कि पड़ोसी मुल्‍क के अंदर कौन सी है वो जगह और क्‍यों कहलाती है मिनी इंडिया-  

 

पान मंडी है नाम 

दिल्‍ली के चांदनी चौक की जो हैसियत भारत में है, पाकिस्‍तान में वही हैसियत लाहौर के अनारकली मार्केट की है। पान मंडी इसी अनारकली मार्केट में मौजूद है। अनारकली मार्केट को पाकिस्‍तान के सबसे बड़े, पुराने और प्रतिष्ठित मार्केट के तौर पर देखा जाता है। पान मंडी में पहले सिर्फ पान का कारोबार होता था, लेकिन अब वहां पान के अलावा बहुत सी दुकाने हैं। पुराने लाहौर की यह पान मंडी पूरे पाकिस्‍तान में इंडियन मार्केट या मिनी इंडिया के नाम से फेमस है।

 

इसलिए कहलाती है मिनी इंडिया

लाहौर की पान मंडी का रुतबा पूरे पाकिस्‍तान में सबसे अलग है। अगर आप पाकिस्‍तान में हैं और आपको बेहतरीन और असली इंडियन प्रोडक्‍ट चाहिए तो यहां का रुख करना होगा। पूरी पान मंडी में करीब ऐसी 40 दुकाने हैं, जहां आपको भारतीय प्रोडक्‍ट धड़ल्‍ले से मिल जाएंगे। इंडिया के जो प्रोडक्‍ट यहां मिलते हैं, उसमें भारत में बने कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट्स की डिमांड सबसे ज्‍यादा है। इसके अलावा कपड़े, इडेबल फूड और अन्‍य एफएमसीजी प्रोडक्‍ट का नंबर आता है।

 

आगे पढ़ें- क्‍या-क्‍या बिकता है यहां....

सब कुछ बिकता है यहां

पान मंडी में भारत के लगभग सभी तरह के प्रोडक्‍ट मिलते हैं, इसमें हाजमे की गोली से लेकर नहाने का साबुन तक शामिल है। पाकिस्‍तान में सबसे जयादा मांग भारत के लक्‍स साबुन की है। डाबर लाल दंत मंजन, डाबर आंवला तेल, गुल मंजन, शैंपू, बोरोलीन, बोरोप्‍लस, पुदीन हरा आदि भी इसमें शामिल हैं। इसके साथ ही खादी के हाथ से बने साबुन और अन्‍य प्रोडक्‍ट भी पंसद किए जाते हैं। खादी के कपड़े, चिकन की कारीगरी और भारतीय फैक्ट्रियों में बने रेडिमेड गारमेंट भी यहां मौजूद हैं। 

 

आगे पढ़ें- भारत से ही गए हैं ज्‍यादातर दुकानदार

ज्‍यादातर दुकानदार भारत से 

पान मंडी के ज्‍यादातर दुकानदार यूं तो मुस्लिम हैं, लेकिन इन सभी के इंडियन कनेक्‍शन भी हैं। यहां ज्‍यादातर ऐसे लोग दुकानें चलाते हैं जो खुद या उनके माता-पिता बंटवारे के वक्‍त भारत से जाकर पाकिस्‍तान में बस गए। पान मंडी ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रमुख इब्राहीम खालिद के पूर्वज खुद भी कभी भारत से जाकर पाकिस्‍तान में बसे थे। ये भारतीय आज भी कहीं न कहीं इंडिया से जुड़े हुए हैं, जिसके चलते इन्‍हें इंडियन मार्केट और प्रोडक्‍ट के बारे में जानकारी मिलती रहती है। इसी के जरिए वह सेल किया करते हैं।

 

आगे पढ़ें- कुछ प्रोडक्‍ट सीधे तो कुछ दुबई से पहुंचते हैं यहां..

कुछ प्रोडक्‍ट सीधे तो कुछ दुबई से पहुंचते हैं यहां  

भारत और पाकिस्‍तान के बीच हुई 3 लड़ाइयों के बाद दोनों मुल्‍कों के बीच डायरेक्‍ट ट्रेड बेहद कम है। यहां बिकने वाला कुछ सामान सीधे बॉर्डर के जरिए आता है। हालांकि पाबंदी ज्‍यादा होने कारण बहुत सा सामान अफगानिस्‍तान या दुबई के रूट से आता है। मतलब भारत से सामान पहले दुबई या अफगानिस्‍तान जाता है और फिर वहां से पाकिस्‍तान पहुंचता है। 
 
आगे पढ़ें-  काफी फेमस है भारत का पान 

भारत के पान के मुरीद हैं पाकिस्‍तानी 

यूं तो पा‍किस्‍तान में पान पैदा नहीं होता है, लेकिन भारत की तरह पाकिस्‍तान में भी पान बेहद पंसद किया जाता है। यहां भी नुक्‍कड़ों पर पान की छोटी-छोटी दुकानें देखी जा सकती हैं। लाहौर की पान मंडी तो इसका गढ़ ही है। यहां थोक पान की कई दुकानें हैं। यहां भारतीय पान को बेहद पंसद किया जाता है, जिसे यहां सांची पान कहा जाता है। यह पान मूल तौर पर मध्‍य प्रदेश के इलाकों में पैदा किया जाता है। पाकिस्‍तान, भारत के अलावा श्रीलंका से भी पान इम्‍पोर्ट करता है।   
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट