Home » Economy » InternationalThe social networking giant Facebook likely to launch its own cryptocurrency

फेसबुक ला सकता है अपनी क्रिप्‍टोकरंसी, 2 अरब से ज्‍यादा यूजर्स को मिलेगा पेमेंट ऑप्‍शन

फेसबुक अपनी क्रिप्‍टोकरंसी ला सकता है। हाल ही में फेसबुक की ओर से नया ब्लॉकचेन ग्रुप बनाने की खबर आई थी।

1 of

सैन फ्रांसिस्‍को. फेसबुक की ओर से नया ब्लॉकचेन ग्रुप बनाने की खबर के बाद अब कहा जा रहा है कि फेसबुक अपनी क्रिप्टोकरंसी ला सकता है। टेक वेबसाइट Cheddar के अनुसार, फेसबुक इस मसले पर बेहद गंभीरता से विचार कर रहा है। हालांकि, इस मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि फेसबुक कथित तौर पर इनिशियल कॉइन ऑफरिंग (ICO) जारी करने पर विचार नहीं कर रहा है। इसके जरिए कंपनी सीमित संख्या में वर्चुअल टोकन जारी करेगी, जिन्हें तय कीमतों पर खरीदा जा सकेगा। 

 

2 अरब यूजर्स को मिलेगा पेमेंट ऑप्‍शन 
पूरी दुनिया में फेसबुक के 2 अरब से ज्यादा यूजर हैं। क्रिप्टोकरंसी लॉन्च करने से इन यूजर्स को बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करंसी का इस्तेमाल कर पेमेंट करने की सुविधा मिल जाएगी। फेसबुक मैसेंजर के एग्जिक्युटिव इंचार्ज डेविड मार्कस ने एक पोस्ट में कहा, 'हम एक छोटा सा ग्रुप बनाने जा रहे हैं, जो फेसबुक में ब्लॉकचेन बनाने का काम करेगा।' इसके बाद फेसबुक की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'कई अन्य कंपनियों की तरह फेसबुक भी ब्लॉक चेन टेक्‍नोलॉजी की ताकत को एक्सप्लोर करना चाहता है। यह छोटी सी टीम कई अलग-अलग एप्लिकेशंस को एक्सप्लोर करेगी। अभी हमारे पास इसके अलावा कुछ बताने को नहीं है।' 

 

2018 में ब्लॉकचेन सॉल्‍यूशंस पर खर्च होंगे 2.1 अरब डॉलर 
मार्केट रिसर्च फर्म इंटरनेशनल डेटा कॉर्पोरेशन (आईडीसी) के मुताबिक, 2018 में ब्लॉकचेन सॉल्‍यूशंस पर करीब 2.1 अरब डॉलर (करीब 13,500 करोड़ रुपए) की रकम खर्च होने वाली है। यह 2017 में खर्च हुई 94.5 करोड़ डॉलर (करीब 6,400 करोड़ रुपए) की रकम से दोगुना है। 

 

फेसबुक बना रहा ब्‍लॉकचेन टेक टीम 

टेक न्‍यूज वेबसाइट रीकोड ने सबसे पहले इस बारे में खबर दी थी कि फेसबुक की ओर से ब्लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी के लिए नई टीम गठित की जा रही है। इस ग्रुप को लीड करने के लिए मार्कस अपना पद छोड़ेंगे। ब्‍लॉकचेन टीम 'न्‍यू प्‍लेटफॉर्म एंड इन्‍फ्रा' के तहत काम करेगी, जिसे चीफ टेक्‍नोलॉजी आफिसर (सीटीओ) माइक श्रोफर चलाते हैं। माइक फेसबुक के एआर, वीआर और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इनी‍शिएटिव की जिम्‍मेदारी भी संभालेंगे। 
 

आगे पढ़ें... डाटा लीक के बाद फेसबुक मैनेजमेंट में हुआ था फेरबदल 

 

डाटा लीक के बाद मैनेजमेंट में हुआ था फेरबदल 
फेसबुक में बड़े पैमाने पर डाटा लीक का मामला सामने आने के बाद कंपनी में बड़े पैमाने पर सीनियर मैनेजमेंट में बदलाव किया गया। यह बदलाव कंपनी के सभी प्‍लेटफार्म में हुआ, जिसमें व्‍हाट्सऐप और मैसेंजर भी शामिल हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट