Home » Economy » Internationalइन देशों में 65 की उम्र के बाद भी काम करते हैं लोग -Countries where people are working beyond 65

इन देशों में 65 के बाद भी नहीं होती रिटायरमेंट, इन वजहों से करनी पड़ती है नौकरी

विश्‍व के कुछ देश ऐसे भी हैं, जहां लोग 65 साल की उम्र के बाद भी काम करते हैं और उनमें भारत भी शामिल है।

1 of

नई दिल्‍ली. भारत में एक आम इन्‍सान कब तक जॉब या काम करता है, आप कहेंगे 60 या 62 की उम्र तक। क्‍योंकि भारत में आम तौर पर रिटायर होने की यही उम्र है। बिजनेसमैन, एक्‍टर्स और नेताओं जैसे लोगों को छोड़ दें तो देश का एक आम इंप्‍लॉई 60 की उम्र के बाद काम नहीं करता और पेंशन या सेविंग्‍स के जरिए अपनी बाकी की उम्र गुजारता है। लेकिन विश्‍व के कुछ देश ऐसे भी हैं, जहां लोग 65 साल की उम्र के बाद भी काम करते हैं और उनमें भारत भी शामिल है। हाल ही में जारी एक ओईसीडी रिपोर्ट में ऐसे कुछ देशों का जिक्र है, जहां लोग 65 की उम्र के बाद भी रिटायर नहीं होते। भारत में ऐसे लोगों की संख्‍या 35.8 फीसदी है। 

 

क्‍या है वजह

65 की उम्र के बावजूद काम करने की पहली वजह फाइनेंशियली स्‍ट्रॉन्‍ग न होना है। लोगों की पैसों की जरूरत उन्‍हें इस उम्र में भी काम करने को मजबूर करती है। लेकिन हर मामले में ऐसा नहीं है। कुछ लोग फिट और एक्टिव रहने के लिए रिटायर हो जाने के बावजूद काम करना पसंद करते हैं, तो कुछ लोग अपनी पुरानी जिन्‍दगी में इतना ढल चुके हैं कि रिटायरमेंट के बाद खाली बैठना उन्‍हें पसंद नहीं। इसलिए वे अपने आप को बिजी रखने के लिए काम करते हैं। वहीं कुछ लोग अपनी रेगुलर जॉब से रिटायर होने के बाद अपने किसी शौक या अन्‍य पसंदीदा काम को अपना वक्‍त दे रहे हैं, जिसे वे पहले जिम्‍मेदारियों के चलते नहीं कर पाए। ऐसे लोग अपने काम को काम की तरह नहीं लेते बल्कि उसे एंजॉय करते हैं। 

 

आगे पढ़ें- और कौन से देश हैं लिस्‍ट में 

भारत के अलावा और कौन से देश हैं शामिल


65 के बाद भी काम करने वाले लोगों की लिस्‍ट में भारत के अलावा कुछ अन्‍य देशों के लोग भी हैं। इसमें सबसे पहला स्‍थान इंडोनेशिया का है। इंडोनेशिया में 2016 में 65-69 साल वाले कामकाजी लोगों का  आंकड़ा 50.6 फीसदी है। दूसरे और तीसरे स्‍थान पर दक्षिण कोरिया और जापान हैं, जहां क्रमश: 45 फीसदी और 42.8 फीसदी लोग 65 की उम्र के बाद काम कर रहे हैं। 2016 में इस लिस्‍ट में चौथे स्‍थान पर रहे न्‍यूजीलैंड में रिटायरमेंट के लिए कोई अनिवार्य उम्र नहीं है, इसलिए वहां 42.6 फीसदी लोग 65 के बाद भी कामकाजी है, जबकि इजरायल में यह आंकड़ा 39.3 फीसदी है। 

 

आगे पढ़ें- अमेरिका-ब्रिटेन से आगे है भारत

चीन है भारत से आगे, अमेरिका-ब्रिटेन पीछे 


इस लिस्‍ट में चीन, भारत से एक पायदान ऊपर है। जहां भारत में 2016 में 65-69 साल में काम करने वालों की संख्‍या 35.8 फीसदी रही, वहीं चीन में यह संख्‍या 36 फीसदी रही। हालांकि इस मामले में अमेरिका और ब्रिटेन भारत से भी पीछे है। अमेरिका में केवल 31 फीसदी लोग 65 की उम्र के बाद काम करना पसंद करते हैं। ब्रिटेन में तो यह आंकड़ा और भी कम है, वहां केवल 21 फीसदी लोग इस उम्र के बाद काम करते हैं। कुछ अन्‍य देशों की बात करें तो ब्राजील में 28.1 फीसदी, ऑस्‍ट्रेलिया में 25.9 फीसदी, कनाडा में 24.9 फीसदी, दक्षिण अफ्रीका में 9.7 फीसदी, फ्रान्‍स में 6.3 फीसदी और स्‍पेन में केवल 5.3 फीसदी लोग 65-69 की उम्र में काम करने वाले हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट