Home » Economy » Internationalतिआनगोंग-1 चीनी जनवादी गणराज्य स्‍पेस स्‍टेशन अंतरिक्ष घरती

चीन ने दुनिया को मुश्किल में डाला, आसमान से आ रही है आफत

चीन का एक स्‍पेस स्‍टेशन धरती पर गिरने जा रहा है। इसके चलते दुनिया भर के देशों को चिंता सता रही है...

1 of

नई दिल्‍ली. चीन का एक स्‍पेस स्‍टेशन धरती पर गिरने जा रहा है। इसके चलते दुनिया भर के देशों को चिंता सता रही है। 8.5 टन वजजी इस स्‍पेस स्‍टेशन का तिआनगोंग-1 है। बताया जा रहा है कि यह अप्रैल के पहले सप्‍ताह में धरती पर गिरने जा रहा है। चिंता की बात यह है कि वैज्ञानिक अभी तक यह पता लगाने में नाकाम रहे हैं कि यह स्‍टेशन आखिर धरती के किस हिस्‍से पर गिरेगा। यही कारण है कि दुनिया भर के देशों के लिए यह चिंता का विषय बन गया है। माना जा रहा है कि धरती के वातावरण में आने के बाद अगर यह किसी संवेदनशील या रिहायशी इलाके में गिरता है कि जानमाल का बड़ा नुकसान हो सकता है।  

रिपोर्ट के मुताबिक, मार्च 2016 में ही यह स्‍टेशन चीन की पहुंच से बाहर चला गया था। चीनी वैज्ञानिक चाहकर भी इसे दोबारा रीलोकेट नहीं कर पाए थे। फिलहाल अब यह रीलोकेट हुआ है तो दुनिया भर के देशों के लिए आफत का सबब बन गया है। अमेरिका द्वारा फंडेड एयरोस्‍पेस कॉर्पोरेशन का अनुमान है कि तिआनगोंग-1 अप्रैल के पहले हफ्ते में धरती पर गिर सकता है। यूपोपीयन स्‍पेस एजेंसी का दावा है कि चीन की यह यह आफत 24 मार्च से 19 अप्रैल के बीच धरती पर गिर सकती है।    

 

 

इसलिए है बड़ा खतरा 
 अंतरिक्ष से धरती पर गिरने के दौरान रास्‍ते में ही सैटे‍लाइट का ज्‍यादातर हिस्‍सा जलकर खाक हो जाएगा, लेकिन एक्‍सपर्ट का दावा है कि करीब 100 किलो वजन फिर भी बच सकता है और धरती से टकरा सकता है। हालांकि तिआनगोंग-1 से खतरे का इससे भी बड़ा कारण है। दरअसल इसमें फ्यूल के तौर पर हाइड्रोजन भरा हुआ है। अगर इंसान इसके संपर्क में आते हैं नर्व सिस्‍टम या लिवर डैमेज हो सकता है। अगर यह स्टेशन फ्यूल समेत धरती के वायुमंडल में दाखिल हुआ तो लोगों की सेहत पर बुरा असर डाल सकता है।   

 

 

अमेरिका या यूरोप का खतरा 
फिलहाल ट्रैकिंग के बाद इस स्‍पेस स्‍टेशन का गिरने का जो मैप बन रहा है कि उसके मुताबिक, इसका बड़ा हिस्‍सा पानी में गिर सकता है। हालांकि यह अमेरिका और दक्षिणीय यूरोप के साथ अर्जेंटीना, चिली और न्‍यूजीलैंड जैसे देशों को हिट कर सकता है।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट