Home » Economy » InternationalChina Announced 8.1% Increase of its Defense Expenditure for 2018

चीन का रक्षा बजट बढ़कर 11.38 लाख करोड़ हुआ, भारत के तिगुने से ज्‍यादा

चीन ने 2018 के लिए अपना रक्षा बजट 8.1 फीसदी बढ़ाकर 175 अरब डॉलर (11.38 लाख करोड़ रुपए) कर दिया है।

1 of


बीजिंग. चीन ने 2018 के लिए अपना रक्षा बजट 8.1 फीसदी बढ़ाकर 175 अरब डॉलर (11.38 लाख करोड़ रुपए) कर दिया है। यह भारत के रक्षा बजट का तिगुने से भी ज्‍यादा है। भारत का रक्षा बजट करीब 52.5 अरब डॉलर (3.40 लाख करोड़ रुपए) पेशनल पीपल्‍स कांग्रेस (एनपीसी) को सौंपी गई रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल चीन ने रक्षा बजट में 7 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी की थी। 
  

सरकारी न्‍यूज एजेंसी सिन्‍हुआ ने एनपीसी को सौंपे गए ऑफिशियल डॉक्‍यूमेंट्स के हवाले से कहा है कि 2018 के लिए चीन का रक्षा बजट 1.11 लाख करोड़ युआन (175 अरब डॉल) होगा। पिछले साल चीन ने रक्ष बजट बढ़ाकर 150.5 अरब डॉलर किया था। अमेरिका के बाद रक्षा पर सबसे ज्‍यादा खर्च करने वाला चीन दुनिया का दूसरा देश है। अमेरिका का रक्षा बजट दुनिया में सबसे ज्‍यादा है। अभी यह करीब 602.8 अरब डॉलर है। 

 

भारत का तिगुना है चीन का रक्षा बजट 
डिफेंस खर्च पर इस बढ़ोत्‍तरी के साथ चीन का रक्षा बजट भारत के रक्षा बजट से तिगुना हो गया है। भारत का ताजा रक्षा बजट करीब 52.5 अरब डॉलर (करीब 3.4 लाख करोड़ रुपए) है। 

 

बजट सत्र का दूसरा चरण आज से, PNB फ्रॉड पर हंगामे के आसार

 

बना रहा है नए एयरक्रॉफ्ट कैरियर 
पिछले साल चीन में अपना रक्षा बजट बढ़ाकर 150 अरब डॉलर किया था। विश्‍लेषकों का मानना थ कि यह उम्‍मीद से ज्‍यादा है। ऐसा माना जा रहा है कि चीन अब दो नए एयरक्रॉफ्ट कैरियर्स बना रहा है। चीन का एक एयरक्रॉफ्ट कैरियर पहले से ही सर्विस में है। इसके अलावा, चीन कुछ नए जेट फाइटर्स, इनमें स्‍टेल्‍थ फाइटर  जे-20 को अपनी जंगी बेड़े में शामिल करेगा। चीन  की नेवी ने फ्लोटिला जहाजों के साथ अपना विस्‍तार किया है। इससे माना जा रहा है कि सुदूर समंदर में भी चीन का दबदबा बढ़ेगा। 

 

रक्षा बजट बढ़ रहा है और ग्रोथ में गिरावट है 
चीन का रक्षा बजट पिछले दो साल में भी बढ़ा है, वहीं, चीन की ग्रोथ रेट 2013 के बाद से तीसरी बार गिरी है। 2016 में यह 7.6 फीसदी थी और 2017 में घटकर 7 फीसदी पर आ गई। 2018 में इसके 6.5 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया है। दूसरी ओर, चीन के रक्षा बजट को बढ़ाकर 175 अरब डॉलर करने को वहां की सरकारी मीडिया ने जायज बताया है। एनपीसी के स्‍पोक्‍सपर्सन झांग येसुई ने मीडिया को बताया कि चीन की जीडीपी में चीन के डिफेंस बजट का हिस्‍सा बहुत छोटा है। चीन का प्रति व्‍यक्ति रक्षा खर्च दूसरे बड़े देशों से कम है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट