बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalरहने के लिए हैं बेस्ट 10 देश, नीरव मोदी जैसे अमीरों की पहली पसंद

रहने के लिए हैं बेस्ट 10 देश, नीरव मोदी जैसे अमीरों की पहली पसंद

पावर,एजुकेशन,इकोनॉमिक,पॉलिटिकल स्टेबिलिटी,सेफ्टी के कारण ये देश दुनिया के अमीरों को ज्यादा पसंद हैं।

1 of

नई दिल्ली। दुनिया के अमीर इन देशों में रहना सबसे ज्यादा पसंद करते हैं। यूएस न्यूज और वर्ल्ड रिपोर्ट के मुताबिक ये देश कल्चरल हैरिटेज, पावर, एजुकेशन, इकोनॉमिक मौकों, हैप्पीनेस, पॉलिटिकल स्टेबिलिटी, सेफ्टी और जॉब मार्केट के मामले में सबसे सही माने गए हैं। इसके कारण अमीर इन देशों में सबसे ज्यादा रहना पसंद करते हैं। आइए जानते हैं इन देशों के बारे में..

 

 

स्विजरलैंड

 

रैंक – 1

 

वर्ल्ड में रहने के लिहाज से स्विजरलैंड को सबसे ऊपर रखा गया है। यूएस न्यूज और वर्ल्ड रिपोर्ट के मुताबिक स्विजरलैंड में सबसे कम बेरोजगारी है। यहां कि मजबूत इकोनॉमी है। छोटा देश होने के बावजूद स्विजरलैंड के नागरिकों को सबसे ज्यादा नोबेल अवार्ड मिले हैं। स्विजरलैंड को भरोसे, एनवायरमेंट, ह्युमन राइट्स, एजुकेशन, पब्लिक हेल्थ और इकोनॉमिक मजबूती पर सबसे ज्यादा अंक मिले हैं। हालांकि, अफोर्डेबिलिटी और मिलिटरी के मामले में सबसे कम अंक मिले हैं।

 

कनाडा

रैंक – 2

 

कनाडा अपने मल्टीकल्चर और हाई स्टैंडर्स ऑफ लिविंग के लिए जाना जाता है। कनाडा की लाइफ क्वालिटी वर्ल्ड में सबसे बेस्ट मानी गई है। कनाडा को पॉलिटिकल स्टेबिलिटी, सेफ्टी और जॉब मार्केट के मामले में अच्छे अंक मिले हैं।

 

आगे पढ़ें - किन देशों को क्या रैंकिंग मिली है..

जर्मनी

रैंक - 3

 

जर्मनी वर्ल्ड की बड़ी इकोनॉमी में से एक है। जर्मनी को ग्लोबल कनेक्टिविटी, एजुकेशन, इकोनॉमिक स्टेबिलिटी और मजबूत इंटरनेशनल अलांयस के लिए अच्छी रैंक मिली है।

 

इंग्लैंड

 

रैंक - 4

 

इंग्लैंड का इंटरनेशनल स्तर पर असर उसकी हिस्ट्री के कारण नजर आता है। इंग्लैंड को ह्यूमन राइट्स, कल्चरल हिस्ट्री, ग्लोबल कनेक्टिविटी और पॉलिटिकल पावर के कारण अच्छी रैंक मिली है। हालांकि, इनकम में अंतर और महंगा होना इसकी वीकनेस माना गया है।

 

आगे पढ़ें - किन देशों को क्या रैंकिंग मिली है..

जापान

 

रैंक – 5

वर्ल्ड की तीसरी बड़ी इकोनॉमी और टेक्नोलॉजिकल लीडर जापान को एन्टरप्रेन्योरशीप, एजुकेशन और ग्लोबल पावर केटेगरी में टॉप रैंक मिली है। ये देश जेंडर इक्वेलिटी और धर्म का आजादी के मामले में पीछे हैं।

 

 

स्वीडन

रैंक - 6

 

स्वीडन को ह्यूमन राइट और पब्लिक सर्विस के लिए अच्छी रैंक मिली है।

 

आस्ट्रेलिया

 

रैंक – 7

 

आस्ट्रेलिया अमीर देशों में गिना जाता है। इसके इंफ्रास्ट्रक्चर, पॉलिटिकल स्टेबिलिटी और एजुकेशन सिस्टम को अच्छा रैंक मिला है। लेकिन आस्ट्रेलिया को ग्लोबल पावर और कल्चरल हैरिटेज में अच्छे अंक मिले है।

 

आगे पढ़ें - किन देशों को क्या रैंकिंग मिली है..

अमेरिका

 

रैंक – 8

 

अमेरिका की रहने के लिहाज से बेस्ट देशों की रैंकिंग में साल दर साल गिरा है। 2016 में यह तीसरे स्थान पर और 2017 में सातवें स्थान पर था। अब साल 2018 में अमेरिका को आठवां स्थान मिला है। अमेरिका के पास स्ट्रॉन्ग मिलिटरी है।

 

फ्रांस

 

रैंक 9

 

फ्रांस को उसके कल्चर, ह्यूमन राइट और इंटरनेशनल अलायंस के लिए अच्छी रैंकिंग मिली है।

 

नीदरलैंड

 

रैंक – 10

 

नीदरलैंड को ह्यूमन राइच के मामले में टॉप रैंकिंग मिली है। ये पहला देश था जिसने गे वेडिंग को कानूनी मान्यता दी थी।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट