बिज़नेस न्यूज़ » Economy » International23 की उम्र में बनी शेयर बाजार की इकलौती महिला ट्रेडर, पुरुषों के दबदबे को दे रही चुनौती

23 की उम्र में बनी शेयर बाजार की इकलौती महिला ट्रेडर, पुरुषों के दबदबे को दे रही चुनौती

लॉरेन सिमोंस, न्‍यूयार्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज (NYSE) की सबसे युवा और एक मात्र फुल टाइम महिला ट्रेडर हैं।

1 of

न्‍यू यार्क. पुरुषों के दबदबे वाली स्‍टॉक मार्केट की दुनिया में यदि कोई फुल टाइम महिला ट्रेडर हो, तो इसकी चर्चा लाजमी है। लॉरेन सिमोंस, न्‍यूयार्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज (NYSE) की सबसे युवा और एक मात्र फुल टाइम महिला ट्रेडर हैं। सिमोंस की उम्र महज 23 साल है और वह रोसेनब्लैट सिक्योरिटीज के लिए इक्विटी ट्रेडर का काम करती हैं। अमेरिकी न्‍यूज पोर्टल सीएनबीसी मेकइट से बातचीत में सिमोंस कहती हैं, ''जब मैं लोगों को अपने जॉब के बारे में बताती हूं तो वो हमेशा चौंक जाते हैं।'' उनका कहना है कि यदि पांच साल पहले उनसे यह कहता कि वह वॉल स्‍ट्रीट पर काम करती हैं तो उन्‍हें भी इसका भरोसा नहीं होता। 

 

नहीं रास आया मेडिकल फील्‍ड 
सिमोंस दिसंबर 2016 में केनेसो स्टेट यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन करने के बाद न्‍यूयार्क ला गईं। जार्जिया की रहने वाली सिमोंस ने कॉलेज के दौरान स्‍थानीय क्लिनिकल ट्रीटमेंट सेंटर में इंटर्न का काम किया था। उस वक्‍त वह जेनेटिक्‍स में बीए कर रही थीं, जिसमें थोड़ी बहुत पढ़ाई सांख्यिकी (स्‍टेटिस्टिक्‍स) की भी शामिल थी। पहले उनकी प्‍लानिंग मेडिकल फील्‍ड में कैरियर बनाने की थी लेकिन बाद में उन्‍हें आभास हुआ कि मेडिकल उनका पैशन नहीं है। सिमोंस ने दूसरी इंडस्‍ट्रीज में अवसर तलाशने शुरू किए।

 

आंकड़ों का रुझान ले आया शेयर बाजार तक 
सिमोंस ने फाइनेंस के क्षेत्र में अवसर तलाशने शुरू किए। उन्‍हें हाई स्‍कूल से ही आंकड़ों का खेल अच्‍छा लगता था। रोसेनब्लैट सिक्योरिटीज की मौजूदा जॉब उन्‍हें लिंक्‍डइन के जरिए मिली। लॉरेन सिमोंस कहती हैं, नंबर्स और आंकड़ों के प्रति लगाव के चलते ही मैं न्‍यूयार्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज तक आई। नंबरों के प्रति मेरे लगाव की वजह यह है कि वे एक यूनिवर्सल भाषा है। सिमोंस ने मार्च 2017 से अपना काम शुरू किया लेकिन उन पर अचानक सीरीज 19 पास करने की अनिवार्यता आ गई। सभी फ्लोर ब्रोकर्स को अपना बैज हासिल करने के लिए यह एक्‍जाम पास करना जरूरी होता है। सिमोंस को इस एक्‍जाम के लिए सिर्फ एक माह का समय मिला और उन्‍होंने यह कर दिखाया। 

 

 

आगे पढ़ें...फाइनेंशियल इंडस्‍ट्री महिलाओं के लिए अभी भी चुनौतीपूर्ण 

 

 

फाइनेंशियल इंडस्‍ट्री महिलाओं के लिए अभी भी चुनौतीपूर्ण 
सिमोंस का कहना है कि महिलाओं के लिए फाइनेंशियल सर्विसेज इंडस्‍ट्री में काम करने के लिए एक पूरी तरह इकोसिस्‍टम तैयार होने में लंबा समय लगेगा। 1967 में मुरियल सिबर्ट फ्लोर पर ट्रेड करने वाली पहली महिला थी। उस समय महिलाओं के लिए कोई रेस्‍टरूम नहीं थे, इसलिए एक्‍सचेंज ने फ्लोर पर एक सिंगल बाथरूम बूथ बनवाया। तब मैंने अपना बैज हासिल किया, जब यह फन स्‍टोरी मुझे बताई गई। उसके बाद बूथ को हटाकार नए कम्‍प्‍यूटर्स और बड़ी स्‍क्रीन के लिए जगह बना दी गई। हालांकि अब महिलाओं के लिए एक डेडिकेटेड वुमन बाथरूम है। 

 

सिमोंस का कहना है कि उन्‍हें ट्रेडर्स के लिए निर्धारित जैकेट पहननी पड़ती है जोकि महिलाओं को ध्‍यान में रखते हुए डिजाइन नहीं किए गए हैं। दुर्भाग्‍यवश, उनके साइज केवल पुरुषों के लिए आते हैं। यहीं नहीं, उन्‍हें इस 10 पैकेट वाले जैकेट के चलते ट्रोल भी होना पड़ा। 

 

आगे पढ़ें...NYSE की प्रेसिडेंट को लेकर उत्‍साहित हैं सिमोंस 

 

NYSE की प्रेसिडेंट को लेकर उत्‍साहित हैं सिमोंस 
न्‍यूयार्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज के ट्रेडिंग फ्लोर के लुक में बीते 50 साल में कई बड़ा बदलाव नहीं आया है। लेकिन, एक ऐसा संकेत मिला है जिससे लगता है कि बड़ा बदलाव आने वाला है। जून में स्टेसी कनिंघम NYSE का प्रेसिडेंट बनाया है।  NYSE में कभी इंटर्न रहने वाली कनिंघम एक्‍सचेंज के 1792 से बनने के बाद से पहली महिला प्रेसिडेंट हैं। सिमोंस कहती हैं, मैं बहुत उत्‍साहित हुं। कनिंघम एक पुरुष की तरह ही योग्‍य है, शायद उनसे बेहतर हैं। मेरा मानना है कि नया बदलाव आने वाला है। उम्‍मीद है कि नई महिला प्रेसिडेंट बनने और यहां तक मेरी कहानी सामने आने के बाद दूसरी महिलाओं को भी इस फील्‍ड में आने के लिए प्रेरित होंगी। सिमोंस कहती हैं, मेरी सबसे बेहतर सलाह है कि वॉल स्‍ट्रीट में कैरियर के लिए हर कोई तैयार रहें, खासकर महिलाएं, क्‍योंकि वहां कोई लिमिट नहीं है। 
 
(सोर्स: सीएनबीसी मेकइट) 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट