विज्ञापन
Home » Economy » InternationalThe result of hostility from India, the highest inflation in Pakistan in four years

भारत से दुश्मनी का नतीजा, पाकिस्तान में चार साल में सबसे अधिक महंगाई

पाकिस्तान में टमाटर के दाम में 150 फीसदी तो हरी मिर्च में करीब 38 फीसदी का इजाफा

The result of hostility from India, the highest inflation in Pakistan in four years

नई दिल्ली. भारत से दुश्मनी करना पाकिस्तान (Pakistan) काफी महंगा साबित हो रहा है। पुलवामा अटैक (Pulwama attack)के बाद भारत ने सख्ती की तो पाकिस्तान में महंगाई दर बढ़कर (मुद्रास्फीति) 8.2 फीसदी हो गई।  पाकिस्तानी अखबार डान ने पाकिस्तान के सांख्यकी ब्यूरो की रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि फरवरी में टमाटर 150.04, हरी मिर्च 37.43, अनार 11.24 फीसदी महंगे हो गए हैं।

 

जरूरी चीजों की किल्लत 

गौरतलब है कि भारत से पाकिस्तान को टमाटर बड़ी मात्रा में निर्यात किए जाते हैं। भारत द्वारा पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीने जाने के बाद से पाकिस्तान में जरूरी चीजों की किल्लत हो गई है।  

 

ये हैं वजह 

पाकिस्तान में महंगाई का  असर उसकी मौद्रिक नीति पर भी पड़ा है। स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान ने रुपए की गिरती कीमत और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए कई बदलाव किए है। बैंक ने बीते साल जनवरी में कर्ज की दरों में भी 4.5 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी थी। 

 

बढ़ रही है मुद्रा स्फीति 

हालांकि सांख्यकी ब्यूरो ने इसका कारण पाकिस्तानी रुपए में तेजी से गिरावट और मांग में बढ़ोतरी को बताया है।  डान के मुताबिक पाकिस्तान में अक्टूबर में चार साल की सबसे ज्यादा महंगाई 6.78 प्रतिशत दर्ज की गई थी। यह भी तब जब दुनिया में तेल की कीमतें बढ़ने लगी थी। पाकिस्तानी सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 6 प्रतिशत का वार्षिक मुद्रास्फीति का अनुमान लगाया है लेकिन यह आंकड़ा इस साल फरवरी में ही पार हो गया है। बीते साल औसत महंगाई दर 3.92 और इससे पहले 4.16 प्रतिशत थी। 

 

इन पर रखता है सांख्यिकी ब्यूरो नजर 

पाकिस्तान का सांख्यकी ब्यूरो 40 शहरों और 76 बाजारों से एकत्र 487 वस्तुओं की खुदरा कीमतों को इकट्ठा कर मुद्रास्फीति की गणना करता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss