विज्ञापन
Home » Economy » InternationalIf War Happens Pakistan Will Suffer A Lot

भारत से की जंग तो कहीं का नहीं रहेगा पाकिस्तान, 6 प्वाइंट में समझें

हर मामले में पाकिस्तान से दस हाथ आगे है भारत

If War Happens Pakistan Will Suffer A Lot

प्रतिभा सिंह। नई दिल्ली 

भारत ने पाकिस्तान से पुलवामा हमले का बदला ले लिया है। मंगलवार सुबह भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों हमला किया। वायु सेना के 12 मिराज विमानों ने बालाकोट में करीब 1000 किलो बम गिराए। यह सर्जिकल स्ट्राइक 2016 में हुई सर्जिकल स्ट्राइक से कहीं ज्यादा बड़ी है। देखा जाए तो यह पाकिस्तान के लिए एक सबक है कि अगर वह भारत से युद्ध करने के बारे में सोच रहा है तो संभल जाए। इस वक्त भारत जिस मजबूत स्थिति में है और पाकिस्तान की हालत जिस तरह खस्ताहाल हो रही है, अगर युद्ध होता है तो पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पूरी तरह डूब जाएगी। पाकिस्तान कहीं का नहीं रहेगा।

 

सकल घरेलू उत्पाद (GDP)

भारतीय अर्थव्यवस्था दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। हमारा जीडीपी 2.6 लाख करोड़ डॉलर (185 लाख करोड़ रुपए) है। वहीं The Tribune के मुताबिक पाकिस्तान का जीडीपी महज 313 अरब डॉलर यानी भारतीय मुद्रा के हिसाब से 22.2 लाख करोड़ रुपए है।

 

विकास दर

विश्व बैंक के मुताबिक 2018-19 में भारत की विकास दर 7.5 फीसदी रहने की उम्मीद है। जबकि पाकिस्तानी सरकार ने 5.8 फीसदी की विकास दर का लक्ष्य रखा है।

 

प्रति व्यक्ति आय (Per capita income)

टाइम्स ऑफ इस्लामाबाद के मुताबिक पाकिस्तान में प्रति व्यक्ति आय 2017-18 में 1,80,204 रुपए थी। वहीं भारत की प्रति व्यक्ति आय 2018 में 1,12,835 रुपए थी।

 

गोल्ड रिजर्व्स

फिलहाल भारत के पास 598 टन गोर्ल्ड रिजर्व है। इसकी तुलना में पाकिस्तान का गोल्ड रिजर्व तकरीबन नौ गुना कम है। पाकिस्तान के पास सिर्फ 64.6 टन सोने का भंडार है।

 

फाॅरेन एक्सजेंज रिजर्व

पाकिस्तान के पास 1491.9 करोड़ डॉलर (1.96 लाख करोड़ रुपए) का फाॅरेन रिजर्व है। भारत के पास 39827 करोड़ डॉलर (28.3 लाख करोड़ रुपए) का फॉरेन रिजर्व है।

 

विदेशी निवेश

भारत के पास दिसंबर, 2018 तक 33.49 अरब डॉलर (2.38 लाख करोड़ रुपए) का विदेशी निवेश था। पाकिस्तान के पास विदेशी निवेश के नाम पर 13.22 करोड़ डॉलर (941 करोड़ रुपए) ही हैं।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss