विज्ञापन
Home » Economy » InternationalIndia's Mission Shakti space programme

भारत के लिए इस वजह से अहम है Mission Shakti, अब अंतरिक्ष में चीन को देगा चुनौती

युद्ध की स्थिति में कारगर साबित होगी भारत की यह उपलब्धि

India's Mission Shakti space programme

India's Mission Shakti space programme: भारत ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में बड़ी कामयाबी हासिल की है। इसके तहत अब भारत को लाइव मिसाइल को मार गिराने की क्षमता हासिल हो गई है।

नई दिल्ली. भारत ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में बड़ी कामयाबी हासिल की है। इसके तहत अब भारत को लाइव मिसाइल को मार गिराने की क्षमता हासिल हो गई है। इस कामयाबी के साथ भारत अपने प्रतिद्वंदी देश चीन के साथ विश्व के उन 4 प्रमुख देशों में शामिल हो गया है, जिनके पास यह शक्ति है। चीन के अलावा यह शक्ति अमेरिका और रुस के पास थी। 

 

भारत के लिए क्यों अहम है यह कामयाबी 

दरअसल अब युद्ध केवल जल, थल और आकाश तक सीमित नहीं रहा। अब यह अंतरिक्ष तक पहुंच गया है। ऐसे में अगर मान लिया जाए कि भविष्य में कभी चीन के साथ युद्ध होता है और स्थिति भयावह हो जाती है और चीन की ओर से भारतीय कम्युनिकेशन और जासूसी उपग्रह को नष्ट करने की कोशिश की जाती है, तो भारत अपने बचाव में चीन के उपग्रहों को नष्ट कर सकता है। या फिर भारत की ओर से Mission Shakti केवल चीन को संदेश देने की कोशिश है, कि अगर उसकी ओर से कोई हरकत होती है, तो भारत उसका जवाब देने में सक्षम है।     

 

क्या होता है Low Earth Orbit

लो अर्थ ऑर्बिट पृथ्वी की सबसे निचली कक्षा है, जिसका इस्तेमाल टेलीकम्युनिकेशन के लिए किया जाता है। ये ऑर्बिट पृथ्वी की सतह से 1200 मील यानी लगभग 2 हजार किलोमीटर की ऊंचाई पर होता है। जिसमें लो अर्थ ऑर्बिट सैटेलाइट (LEO) मौजूद होते हैं। इस सैटेलाइट का इस्तेमाल मुख्य रूप से डाटा कम्युनिकेशन के लिए किया जाता है। सरल भाषा में कहें तो ईमेल, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और पेजिंग की सेवा का इस्तेमाल करने में इन्हीं सैटेलाइट का इस्तेमाल होता है। ये सैटेलाइट तेज गति से चलते हैं और इनकी कोई एक जगह फिक्स नहीं होती है। LEO आधारित टेलीकम्युनिकेशन का इस्तेमाल मुख्य रूप से विकासशील देशों में होता है। 

 

क्या थीं इस मिशन की चुनौतियां

इस मिशन कि सबसे बड़ी चुनौती ये थी कि ये सैटेलाइट बेहद तेज गति से चलते हैं और उनकी कोई निर्धारित स्थिति नहीं होती है। इस मिशन के दौरान भारत ने ए-सैट मिसाइल का इस्तेमाल करके इस लाइव सैटेलाइट को टार्गेट किया है। इस टार्गेट को मार गिराने के लिए लंबी चौड़ी गणना करनी होती है। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन