Home » Economy » Internationalआईएमएफ चीफ क्रिस्टिना लेगार्डे ने कहा है कि भारत को अपने रिफॉर्म्‍स जारी रखने चाहिए - India should focus on womens inclusion in economy says IMF Chief

रिफॉर्म्‍स जारी रखे भारत, महिलाओं की बराबर की भागीदारी से 27% बढ़ सकती है इकोनॉमी: IMF चीफ

आईएमएफ चीफ क्रिस्टिना लेगार्डे ने कहा है कि भारत को अपने रिफॉर्म्‍स जारी रखने चाहिए

1 of

दावोस. इंटरनेशनल मॉनीटरी फंड (IMF) चीफ क्रिस्टिना लेगार्डे ने कहा है कि भारत को अपने रिफॉर्म्‍स जारी रखने चाहिए और इनमें खास फोकस फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्‍टर पर हो। इसके साथ ही भारत को इकोनॉमी में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए, इससे भारत की इकोनॉमी 27% तक बढ़ सकती है।


रूरल इंडिया में महिलाओं से भेदभाव खत्‍म हो
- वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) की सालाना वुमन सेमिनार की अध्‍यक्षता कर रही लेगार्डे ने कहा कि आईएमएफ की रिसर्च के मुताबिक, लेबर फोर्स में पुरुषों के बराबर महिलाओं की भागीदारी होने से भारत की इकोनॉमी में 27% की बढ़ोत्‍तरी हो सकती है। उन्‍होंने रूरल इंडिया में महिलाओं के साथ हो रहे भेदभाव पर चिंता जताई और इसे तत्‍काल खत्‍म करने की दिशा में कदम उठाने पर जोर दिया। 


रिफॉर्म्‍स पर निर्भर करेगी भारत की ग्रोथ  
- लेगार्डे ने भारत के लिए 7.4% की ग्रोथ के आईएमएफ के अनुमान को दोहराया है।
- उन्‍होंने कहा, "दुनिया में निश्चित तौर पर भारत सबसे तेजी से बढ़ती बड़ी इकोनॉमी में एक है। भारत के भविष्‍य की ग्रोथ इस बात पर निर्भर करेगी कि वह रिफॉर्म्‍स की प्रॉसेस को कैसे आगे बढ़ाता है। भारत को अपने रिफॉर्म्‍स निश्चित रूप से जारी रखने चाहिए। इसमें सबसे ज्‍यादा फोकस फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्‍टर पर होना चाहिए। इनमें एक और सेक्‍टर जेंडर इक्विॉलिटी पर ध्‍यान देने की जरूरत है।"

 

2019 में 7.8% होगी भारत की ग्रोथ 
- सोमवार को जारी वर्ल्‍ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO) में आईएमएफ ने 2018 में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की ग्रोथ 7.4% रहने का अनुमान जताया। इसके अलावा चीन की ग्रोथ 6.8% रहने की बात कही। इमर्जिंग इकोनॉमी में भारत की ग्रोथ सबसे ज्‍यादा रहने का अनुमान है। 
- आईएमएफ के मुताबिक, 2019 में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था 7.8% की दर से बढ़ेगी। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट