बिज़नेस न्यूज़ » Economy » InternationalEU ने गूगल पर लगाया 34 हजार करोड़ रु जुर्माना, एंड्रॉयड मार्केट में पोजिशन के गलत इस्‍तेमाल पर कार्रवाई

EU ने गूगल पर लगाया 34 हजार करोड़ रु जुर्माना, एंड्रॉयड मार्केट में पोजिशन के गलत इस्‍तेमाल पर कार्रवाई

इससे पहले भी EU गूगल पर 240 करोड़ यूरो का एंटी ट्रस्‍ट फाइन लगा चुका है।

Google faces record 4.3 billion-euro EU fine over Android

ब्रुसेल्‍स. यूरोपीय यूनियन (EU) ने अमेरिका की दिग्‍गज टेक कंपनी गूगल पर एंड्रॉयड स्‍मार्टफोन सिस्‍टम मामले में पोजिशन के गलत इस्तेमाल 430 करोड़ यूरो (34 हजार करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है। इस फैसले से ब्रुसेल्‍स और वाशिंगटन के बीच टकराव पैदा होने का जोखिम है। EU के कॉम्पिटीशन कमिश्‍नर मार्गरेथ वेस्‍टेजर ब्रुसेल्‍स में होने वाली एक कांफ्रेंस के दौरान इस जुर्माने की घोषणा कर सकते हैं। ईयू का मानना है कि गूगल ने अपने सर्च इंजन और ब्राउजर का इस्‍तेमाल बढ़ाने के लिए एंड्रॉयड मार्केट में अपनी अच्‍छी पैठ का गलत इस्‍तेमाल किया है। वेस्‍टेजर ने मंगलवार को गूगल के चीफ सुंदर पिचई से टेलीफोन पर बात की और उन्‍हें यूनियन के इस फैसले के बारे में बताया।

 

पहले भी गूगल पर लग चुका है जुर्माना

इससे पहले भी EU गूगल पर 240 करोड़ यूरो का एंटी ट्रस्‍ट फाइन लगा चुका है। यह जुर्माना 2017 में गूगल की शॉपिंग कंपैरिजन सर्विस को लेकर लगाया गया था। नया फाइन तीन साल की जांच-पड़ताल के बाद लगाया गया है। ऐसा माना जा रहा है कि यूरोपीय स्‍टील और एल्‍युमीनियम एक्‍सपोर्ट्स पर टैरिफ लगाए जाने के अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के फैसले के चलते ट्रांसअटलांटिक ट्रेड वॉर का खतरा है।  

 

दूसरे ऑपरेटिंग सिस्‍टम वाले फोन की बिक्री रोकने का लगा था आरोप

यूरोपीय यूनियन ने अप्रैल में एक शिकायत दर्ज की थी, जिसमें गूगल पर आरोप लगाया गया था कि वह मैन्‍युफैक्‍चरर्स को अपने अलावा एंड्रॉयड ओपन सोर्स सिस्‍टम पर बेस्‍ड अन्‍य कंपनियों के ऑपरेटिंग सिस्‍टम पर चलने वाले स्‍मार्टफोन्‍स की बिक्री करने से रोक रही है। कमीशन के मुताबिक, गूगल ने मैन्‍युफैक्‍चरर्स और मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर्स को अपनी डिवाइसेज पर गूगल सर्च प्री इंस्‍टॉल करने के लिए फाइनेंशियल इसेंटिव्‍स भी दिए थे।

 

10 साल से ब्रुसेल्‍स गूगल को कर रहा टारगेट

पिछले 10 सालों से ब्रुसेल्‍स गूगल को लगातार टारगेट कर रहा है। गूगल की यूरोप में इंटरनेट सर्च में गहरी पैठ को लेकर बढ़ती चिंता इसकी वजह है। यूरोप में इंटरनेट मार्केट के लगभग 90 फीसदी हिस्‍से पर गूगल का कब्‍जा है। एंड्रॉयड और गूगल शॉपिंग के अलावा ब्रुसेल्‍स गूगल के खिलाफ एक और जांच कर रहा है, जो गूगल के एडसेंस एडवर्ट प्‍लेसिंग बिजनेस को लेकर है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट