विज्ञापन
Home » Economy » InternationalThis man made out 2 crore rupees by selling flip-flops featuring Donald Trump's tweets

डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट ने बदल दी इस शख्स की तकदीर, किया ऐसा अनोखा काम कि एक महीने में हो गई 2 करोड़ रुपए की कमाई

इस काम ने किया उसे पूरे अमेरिका में फेमस, मीडिया में हो रहे इस शख्स के चर्चे

1 of

नई दिल्ली.

अमेरिका में रहने वाले इस शख्स ने डोनाल्ड ट्रंप की वजह से एक महीने में तकरीबन 2 करोड़ रुपए कमा लिए। उसने ट्रंप के विवादित ट्वीट्स को कमाई के अनोखे अवसर में बदल डाला। लॉस एंजिलिस में रहने वाले 27 वर्षीय फोटोग्राफर और आर्टिस्ट सैम मॉरिसन ने ट्रंप के ट्वीट्स वाली फ्लिप-फ्लॉप्स (Flip-flops) बनाकर बेचीं और सिर्फ एक महीने में ही उसने दो करोड़ रुपए की कमाई कर ली।

 

सैम ने पिछले सितंबर, 2017 में ट्रंप की दोगली बातों को लाेगों के सामने लाने के लिए एक तरीका निकाला। उसने सादा चप्पलें बनाई और उनपर ट्रंप के ट्वीट्स को स्टीकर के तौर पर लगा दिया। उसने ऐसी एक हजार जोड़ी चप्पलें बनाईं। इसके बाद उन्हें अपनी वेबसाइट PresidentFlipFlops.com पर बेचना शुरू किया। इस अनोखे आइडिया को लोगों के बीच फैलने में देर नहीं लगी। कई बड़ी न्यूज एजेंसीज ने उसे कवरेज दिया। नतीजतन उसके सभी एक हजार जोड़ी फिल्प-फ्लॉप एक महीने के अंदर ही बिक गए।

 

हुई दो करोड़ रुपए की कमाई

सैम ने एक विदेशी मीडिया संस्थान को बताया कि चप्पलें बनाने के लिए उसे कम से कम 1000 जोड़ियों के बराबर कच्चा माल मंगाना पड़ा। यह माल दो महीने में उसके पास पहुंचा। इसके बाद उसने खुद हीट प्रेस करके इन सभी हजार जोड़ी चप्पलों पर स्टीकर्स लगाए, उन्हें पैक किया और खुद ही उन्हें शिप भी किया। यह सब करते हुए वे एक फुल-टाइम जॉब भी कर रहे थे। लिहाजा इस प्रोजेक्ट में उन्हें काफी वक्त और पैसा खर्च करना पड़ा। उन्होंने एक जोड़ी चप्पलों का दाम 30 डॉलर यानी तकरीबन दो हजार रुपए रखा। एक ही महीने में उनकी सभी फ्लिप-फ्लॉप्स को अमेरिका के 47 राज्यों के लोगों ने खरीद लिया। इससे उनकी तकरीबन 2 करोड़ रुपए की कमाई हुई।

 

 

छह ट्वीट्स ने बदली जिंदगी

सैम ने ट्रंप के विवादित ट्वीट्स में से दो-दो ट्वीट्स के तीन सेट तैयार किए। हर सेट में दोनों ट्वीट विरोधाभासी हैं। यानी कि ट्रंप ने एक ट्वीट में कुछ और कहा और दूसरे में उसी बात का खंडन कर दिया। सैम ने दोनों ट्वीट्स को फ्लिप-फ्लॉप्स की जोड़ी में स्टीकर के तौर पर लगाया। उन्होंने अलग-अलग साइज के फ्लिप-फ्लॉप्स पर ट्वीट्स के यही तीन सेट लगाए। इसमें से एक सेट में ट्रंप के इलेक्टोरल कॉलेज को लेकर किए गए ट्वीट को शामिल किया गया है। पहले ट्वीट में ट्रंप ने इलेक्टोरल कॉलेज को डेमोक्रेसी के लिए खतरनाक बताया है और दूसरे ट्वीट में इलेक्टोरल ट्वीट को जीनियस करार दिया है।

 

 

ट्रंप की हिपोक्रेसी को सामने लाना था मकसद

इस पूरे प्रोजेक्ट के पीछे सैम का मकसद था डोनाल्ड ट्रंप की हिपोक्रेसी को सबके सामने लाना। दोगली बातें करने के मामले में ट्रंप कई बार लोगों के निशाने पर आ चुके हैं। एक बार उन्होंने ट्वीट करके बताया था कि 'भरोसमंद सूत्र’ के हवाले से उन्हें पता चला है कि बराक ओबामा का Birth Certificate झूठा है। चार साल बाद जब वे राष्ट्रपति बन गए तो उन्होंने ट्वीट करके लोगों को सलाह दी कि वे बेईमान मीडिया के 'सूत्रों’ पर भरोसा न करें।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss