विज्ञापन
Home » Economy » InternationalFB removes Pakistani military-backed fake accounts

पाकिस्तानियों पर Facebook का शिकंजा, 100 से अधिक अकाउंट डिलीट

पाकिस्तान से इन अकाउंट से भारत के खिलाफ की जाती थी साजिश

1 of

नई दिल्ली. पाकिस्तान से संचालित हो रहे भारत विरोधी फेसबुक पेजों, गुप्स और अकाउंट्स पर बड़ी कार्रवाई हुई है। भारत सरकार के अनुरोध पर फेसबुक ने इन सभी पर बैन लगा दिया है। यही नहीं, इंस्टाग्राम से ऐसी सामग्री हटाई जा रही है जिनमें भारत विरोधी बातें हों। विंग कमांडर अभिनंदन के वक्त ऐसे पेजों से नफरत का प्रचार किया गया था। 

 

कश्मीर कम्यूनिटी के नाम से घोलते थे जहर 

 

फेसबुक ने सोमवार को कहा कि इन पेजों में पाकिस्तानी military fan Pages, general Pakistani interest Pages, Kashmir community Pages and hobby and news Pages आदि संचालित करने के लिए फेक अकाउंट का उपयोग कर रहे थे। फेसबुक पर साइबरस्पेस पॉलिसी के प्रमुख नाथनिएल ग्लीचर ने टेलीफोन पर बातचीत के दौरान मीडिया को बताया इन अकाउंट के जरिए पाकिस्तानी अक्सर स्थानीय और राजनीतिक समाचारों के बारे में भी पोस्ट करते हैं, जिसमें भारत सरकार, राजनीतिक नेता और सेना जैसे विषय शामिल हैं। 

 

यह भी पढ़ें...

भारत के बहिष्कार से चीन घबराया, फोरम में 100 देशों की मौजूदगी का किया दावा

 

 

 

पाकिस्तानी सेना के ISPR  का था हाथ 

 

फेसबुक के मुताबिक इस गतिविधि के पीछे के लोगों ने अपनी पहचान छिपाने की कोशिश की थी। लेकिन फेसबुक की जांच में पाया गया कि यह पाकिस्तानी सेना के ISPR (इंटर-सर्विस पब्लिक रिलेशंस) के कर्मचारियों का हाथ था। कुल मिलाकर 24 पेज, 57 फेसबुक अकाउंट, सात ग्रुप और 15 इंस्टाग्राम अकाउंट थे। ज्यादातर पेजों पर 28 लाख से ज्यादा अकाउंट्स जुड़े थे जबकि ग्रुपो में 5000 हजार से ज्यादा खाते शामिल थे। इंस्टाग्राम पर हर अकाउंट से एक हजार से ज्यादा लोग जुड़े हुए थे।

 

यह भी पढ़े...

दुनिया के सबसे रईस व्यक्ति का मोबाइल हैक, फोन में थी गर्लफ्रेंड के साथ वाली फोटो, सऊदी अरब पर फोड़ा ठीकरा 

 

फेसबुक से यह हुई थी गलती 

 

पिछले महीने फेसबुक ने एक ब्लॉग पोस्ट में भारत और कुछ अन्य देशों के साथ कश्मीर का अलग से उल्लेख कर दिया था। इसके बाद फेसबुक ने "गलती" के लिए माफी मांगी और बाद में कश्मीर के संदर्भ को हटा दिया।

 

 

यह भी पढ़ें...

Tulip garden के लिए यूरोप नहीं भारत की इस जगह की सैर कीजिए

 

विज्ञापन के जरिए जोड़ते थे लोगों को 

 

फेसबुक के मुताबिक भारत के खिलाफ उपयोग किए जाने वाले संदर्भों को प्रचारित करने के लिए विज्ञापन दिया जाता था। लगभग 1,100 अमेरिकी डॉलर के एड दिए गए। पहला विज्ञापन मई 2015 में और सबसे हालिया विज्ञापन दिसंबर 2018 में चला था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन