बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalमोदी-जिनपिंग मुलाकात का असर, चीन ने भारत के लिए टैरिफ हटाया तो अमेरिका पर की सख्ती

मोदी-जिनपिंग मुलाकात का असर, चीन ने भारत के लिए टैरिफ हटाया तो अमेरिका पर की सख्ती

चीन ने भारत सहि‍त मध्‍य एशि‍याई देशों से आने वाले कुछ प्रोडक्‍ट पर इंपोर्ट ड्यूटी घटा दी है।

China to cut import tariffs on soybean other products from India

बीजिंग। चीन ने भारत सहि‍त मध्‍य एशि‍याई देशों से आने वाले कुछ प्रोडक्‍ट पर इंपोर्ट ड्यूटी घटा दी है जो 1 जुलाई से प्रभाव में आ जाएगी। इससे यहां के प्रोडक्‍ट को चीन के बाजार में असान एंट्री मि‍ल पाएगी। चीन की आधि‍कारि‍क मीडि‍या के हवाले से जारी खबर के मुताबि‍क, भारत, दक्षि‍ण कोरि‍या, बांग्‍लादेश, लाओस और श्रीलंका से आने वाले सोयाबीन पर चीन कि‍सी तरह की इंपोर्ट ड्यूटी नहीं लगाएगा, पहले ये 3 फीसदी थी। चाइना डेली की रि‍पोर्ट के मुताबि‍क, इन देशों से आने वाले कैमिकल, एग्रीकल्‍चर प्रोडक्‍ट, मेडिकल सप्‍लाई, क्‍लोदिंग, स्‍टील और एल्‍युमीनि‍यम प्रोडक्‍ट पर भी कुछ छूट दी जाएगी।  


अमेरि‍का के प्रोडक्‍ट पर लगाया शुल्‍क 


चीन की ओर से यह घोषणा ऐसे समय पर आई है जब अमेरि‍का और चीन के बीच सीमा शुल्‍क को लेकर जंग छि‍ड़ी हुई है। दोनों देश एक दूसरे के प्रोडक्‍ट पर शुल्‍क  लगा रहे हैं। अमेरि‍का का व्‍यापार घाटा चीन के साथ 375 अरब डॉलर है, जि‍से वह कम करना चाहता है और इसी के लि‍ए अमेरि‍की राष्‍ट्रपति ट्रंप ने चीन से आने वाले कई प्रोडक्‍ट पर भारी इंपोर्ट ड्यूटी लगा दी है। चीन ने भी अमेरि‍का को जैसा को तैसा जवाब देते हुए उसके कई प्रोडक्‍ट पर इंपोर्ट ड्यूटी लगा दी, जि‍नमें सोयाबीन भी शामि‍ल है। मगर चीन ने भारतीय सोयाबीन को पूरी तरह ड्यूटी फ्री कर दि‍या है। 


भारत के  लि‍ए रास्‍ते खुले 
भारत ये चाहता है कि चीन उसके लि‍ए अपनी अर्थव्‍यवस्‍था के दरवाजे और खोले खासतौर पर आईटी और फार्मा के लि‍ए। अप्रैल में भारत-चीन के बीच हई एक वार्ता के दौरान नीति आयोग के वायइस चेयरमैन राजीव कुमार ने चीन से कहा था कि वह भारत से सोयाबीन और चीनी मंगाएं। चंद दि‍नों पहले ही चीन भारत से गैर बासमति चावल के आयात को भी मंजूदी दे दी थी। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट