Home » Economy » InternationalHong Kong can take decision on Nirav Modi arrest

नीरव मोदी की गिरफ्तारी में चीन नहीं देगा दखल, हांगकांग फैसला लेने के लिए आजाद

हांगकांग भारतीय डायमंड मर्चेंट नीरव मोदी की गिरफ्तारी को लेकर भारत की ओर से की गई अपील पर खुद फैसला ले सकता है।

1 of

बीजिंग. चीन ने सोमवार को कहा कि हांगकांग भारतीय डायमंड मर्चेंट नीरव मोदी की गिरफ्तारी को लेकर भारत की ओर से की गई अपील पर खुद फैसला ले सकता है। फैसला हांगकांग के लोकल कानूनों और म्‍यूचुअल ज्‍यूडीशियल असिस्‍टेंस एग्रीमेंट्स के आधार पर लिया जा सकता है।

 

बता दें कि 12,700 करोड़ रुपए के PNB घोटाले के प्रमुख आरोपी नीरव मोदी के हांगकांग में होने की सूचना है। हांगकांग चीन का स्‍पेशल एडमिनिस्‍ट्रेटिव रीजन है। यहां चीन से अलग पॉलिटिकल और इकोनॉमिक सिस्‍टम लागू है।

 

भारत ने मार्च में की थी नीरव मोदी की गिरफ्तारी की मांग

भारतीय विदेश मंत्रालय ने मार्च में हांगकांग सरकार से PNB घोटाले के आरोपी नीरव मोदी को गिरफ्तार करने की अपील की थी। भारत के विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह ने पिछले हफ्ते संसद को बताया था कि मंत्रालय ने हांगकांग स्‍पेशल एडमिनिस्‍ट्रेटिव रीजन (HKSAR), पीपुल्‍स रिपब्लिक ऑफ चाइना की सरकार द्वारा नीरव मोदी के प्रोविजनल अरेस्‍ट की मांग की थी।

 

बेसिक लॉ के आधार पर हांगकांग ले सकता है निर्णय

भारत की इस अपील को लेकर सवाल पूछे जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता गेंग शुआंग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि सेंट्रल गवर्मेंट के असिस्‍टेंस और ऑथराइजेशन के तहत आने वाले HKSAR के एक देश दो व्‍यवस्‍था व बेसिक लॉ के मुताबिक, HKSAR अन्‍य देशों के साथ ज्‍यू‍डीशियल म्‍यूचुअल असिस्‍टेंस पर उचित व्‍यवस्‍था कर सकता है। अगर भारत HKSAR से उचित अपील करता है तो हमें लगता है कि HKSAR बेसिक कानून और संबंधित मुद्दे पर भारत के साथ ज्‍यूडीशियल एग्रीमेंट्स के तहत उचित कानूनों का पालन करेगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट