Home » Economy » Infrastructurepower minister asserted that India will achieve 200 GW RE capacity by 2022

सरकार करेगी 21 हजार MW सोलर व विंड पावर प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन

मार्च 2018 तक 21 हजार मेगावाट सोलर और विंड पावर प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन किया जाएगा

power minister asserted that India will achieve 200 GW RE capacity by 2022

नई दिल्‍ली। मिनिस्‍ट्री ऑफ न्‍यू एंड रिन्‍यूएबल एनर्जी ने कहा है कि मार्च 2018 तक 21 हजार मेगावाट सोलर और विंड पावर प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन किया जाएगा।  इसमें 3 से 4000 मेगावाट कैपेसिटी विंड पावर की होगी। 

 

विंड प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन होगा 
पावर एंड रिन्‍यूएबल एनर्जी मिनिस्‍टर आरके सिंह ने कहा कि विंड पावर प्रोजेक्‍ट के पहले और दूसरे राउंड के ऑक्‍शन हो चुके हैं, जिनसे 2000 मेगावाट विंड पावर कैपेसिटी में एडिशन होगा, जबकि तीसरे और चौथे राउंड में होने वाले ऑक्‍शन में 3 से 4000 मेगावाट विंड पावर एडिशन होगा। ये दो राउंड मार्च 2018 से पहले हो जाएंगे। 

 

ऐसे होगा विंड पावर का टारगेट अचीव 
उन्‍होंने बताया कि सरकार ने साल 2018-19 और 2019-20 में विंड पावर जनरेशन की कैपेसिटी में 10-10 हजार मेगावाट को जोड़ा जाएगा। अब तक देश में 32 हजार मेगावाट विंड पावर जनरेशन हो रहा है और सरकार का टारगेट है कि साल 2022 तक देश में 60 हजार मेगावाट विंड पावर जनरेट की जाए। 

 

2018 में होगा 30 हजार मेगावाट सोलर प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन 
वहीं, साल 2022 तक 1 लाख मेगावाट सोलर पावर जनरेशन का टारगेट हासिल करने के लिए सरकार साल 2018-19 और 2019-20 में 30-30 हजार मेगावाट सोलर पावर प्रोजेक्‍ट्स का ऑक्‍शन करेगी। 

 

आरई से मिलेगी 2 लाख मेगावाट बिजली
सिंह ने दावा किया कि साल 2022 तक रिन्‍यूएबल एनर्जी से 1 लाख 75 हजार मेगावाट पावर जनरेशन का टारगेट है, लेकिन भारत 2 लाख मेगावाट पावर जनरेट करने लगेगा। 

 

बढ़ाएंगे डोमेस्टिक मैन्‍युफैक्‍चरिंग 
सिंह ने कहा कि हमें लगता है कि सोलर इक्‍विपमेंट्स पर कस्‍टम ड्यूटी लगाने से पहले हमें डोमेस्टिक मैन्‍युफैचरिंग कैपेसिटी बढ़ानी चाहिए। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट