Home »Economy »Infrastructure» Railway Is Aiming At Scaling The Speed Up To 200 KMPH

दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर 200 किमी की स्‍पीड से दौड़ेगी ट्रेन, फ्रांस से मदद लेगा रेलवे

दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर 200 किमी की स्‍पीड से दौड़ेगी ट्रेन, फ्रांस से मदद लेगा रेलवे
 
नई दिल्‍ली। ट्रैवल टाइम को कम करने के लिए रेलवे एक और कदम उठाने जा रहा है। रेलवे दिल्‍ली-चंडीगढ़ रूट पर 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन शुरू करेगा। अब तक रेलवे द्वारा दिल्‍ली–आगरा रूट पर 150 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाई जा रही है। दिल्‍ली-चड़ीगढ़ रूट के लिए फ्रांस रेलवे की मदद करेगा।
 
इस रूट पर चलेगी ट्रेन  
 
दिल्‍ली और चंडीगढ़ के बीच 245 किलोमीटर की दूरी है और यह एक बड़ा बिजी रूट है। इस रूट पर शताब्‍दी से सफर करने पर 3 घंटे 30 मिनट का समय लगता है। शताब्‍दी 110 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है। रेलवे का दावा है कि 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन से यह सफर केवल डेढ़ घंटे में पूरा किया जा सकता है। इस रूट का एक ही स्‍टॉप अंबाला में होगा।
 
फ्रांस रेलवे करेगा सपोर्ट
 
एक हाई-लेवल फ्रेंच डेलिगेशन ने हाल ही में इंडियन रेलवे के अधिकारियों से मुलाकात की और दिल्‍ली-चंडीगढ़ पर सेमी हाई स्‍पीड ट्रेन चलाने की संभावनाओं पर बातचीत की। बैठक में इस पर सैद्धांतिक सहमति जताई गई।
 
खर्च हुआ 10 हजार करोड़
 
अनुमान है कि इस रूट पर लगभग 10 हजार करोड़ रुपए का खर्च आएगा, जो लगभग 46 करोड़ रुपए प्रति  किलोमीटर होगा, इसमें रोलिंग स्टॉक, सिगनल और ट्रेक अपग्रेडशन आदि शामिल होगा। हालांकि फ्रांस रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि वे अक्‍टूबर तक प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट सहित अन्‍य जानकारियां देंगे।
 
इन रूट पर भी है संभावना
 
इस रूट के अलावा दिल्‍ली–कानपुर, नागपुर-बिलास पुर, मैसूर-बंगलुरु-चैन्‍नई, मुंबई-गोवा, मुंबई-अहमदाबाद, चैन्‍नई-हैदराबाद और नागपुर-सिंकदराबाद रूट पर भी 160 से 200 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाने पर विचार किया जा रहा है।
 
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY