विज्ञापन
Home » Economy » Infrastructurerailway changes shatabdi racks with tejas

Railway / खुशखबरी, शताब्दी में मिलेगी तेजस जैसी सुविधाएं, नहीं लगेगा अतिरिक्त किराया

हाल ही में तेजस के रैक का दिल्ली से सोनीपत के बीच ट्रायल किया गया था

1 of

नई दिल्ली। अमृतसर शताब्दी एक्सप्रेस (12031/12032) में तेजस एक्सप्रेस के रैक लगाए गए हैं। हाल ही में तेजस के रैक का दिल्ली से सोनीपत के बीच ट्रायल किया गया था और गुरुवार को इसे शताब्दी एक्सप्रेस में लगा दिया गया है। नई सुविधाओं से युक्त इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को अतिरिक्त किराया भी नहीं देना होगा। यानी आप शताब्दी के किराए पर तेजस की सुविधा ले सकेंगे।

सफर ज्यादा आरामदायक होगा

शताब्दी के पुराने कोच की तुलना में तेजस के कोच में सफर ज्यादा आरामदायक होगा। शताब्दी के पुराने कोच में चेयरकार की 938 सीटें थीं जो अब बढ़कर 1092 हो गई हैं। वहीं इकोनाॅमी क्लास के कोच होंगे। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि भविष्य में शताब्दी ट्रेनों में वंदे भारत एक्सप्रेस के रैक लगेंगे।


 

तेजस एक्सप्रेस में उपलब्ध सुविधाएं

 

- आग से बचने के लिए सेंसर लगाए गए हैं।

- प्रत्येक कोच में सीसीटीवी लगे हुए हैं।

- एलईडी स्क्रीन पर आॅन डिमांड एंटरटेनमेंट की सुविधा है।

-आधुनिक जैविक शौचालय, सीटें ज्यादा आरामदायकक हैं।

-दृष्टिबाधित लोगों के लिए ब्रेल लिपि का उपयोग।

- डिब्बों के दरवाजे मेट्रो की तरह खुद बंद होते व खुलते हैं।

- तेजस एक्सप्रेस को 200 km प्रति घंटे की रफ्तार से चलाया जा सकता है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन