Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Economy »Infrastructure» Helping It More Than Double Gas Output From Its Prime KG Basin Block

    ONGC केजी बेसिन में करेगी 21500 करोड़ का निवेश, दोगुना होगा गैस उत्‍पादन

    नई दिल्‍ली।ऑयल एंड नेचुरल गैस कार्पोरेशन (ओएनजीसी) केसी बेसिन में 21500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इस निवेश से 2022-23 तक गैस का उत्‍पादन दोगुना किया जा सकेगा। इस निवेश से समुद्र की ज्‍यादा गहराई में उत्‍पादन क्षमता तैयार की जाएगी। हालांकि कंपनी पहले इस जगह को छोड़ना चाहती थी, लेकिन बाद में उसे ऐसी तकनीक मिली जिससे इस गहने समुद्र से भी गैस निकाली जा सकती है।
     
    लगातार बढ़ रहा है निवेश
     
    कंपनी ने पिछले साल भी 34012 करोड़ रुपए का निवेश किया था। इस निवेश से 10 ऑयल एंड गैस ब्‍लाक में उत्‍पादन बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। इस नए निवेश से समुद्र में अल्‍ट्रा डीपसी से गैस निकालने के लिए सुविधा तैयार की जाएगी। इस गैस फील्‍ड का नाम यूडी1 है।
     
    निवेश का प्‍लान सौंपा
     
    ओएनजीसी ने डायरेक्‍ट्रेट जनरल ऑफ हाइड्रोकॉर्बन का सौंपे निवेश प्‍लान में कहा है कि यूडी1 से कमर्शियली गैस का उत्‍पादन किया जा सकता है। यहां से वर्ष 2022-23 तक उत्‍पादन शुरू हो सकता है। यह जानकारी कंपनी के निदेशक (ऑफशोर) तपस कुमार सेनगुप्‍ता ने दी।
     
    नौ कुंए तैयार किए जाएंगे
     
    कंपनी नए निवश से 9 कुंए ड्रिल करेगी। इनकी गहराई 2400-3200 मीटर के बीच होगी। इन कुंओं से औसतन 19 मिलियन स्‍टेंडर्ड क्‍यूबिक मिट्रिक गैस प्रति दिन निकलेगी। कंपनी पहले यहां पर गैस निकालने का इरादा छोड़ने वाली थी, लेकिन बाद में उसे पता चला कि दुनिया में ऐसी तकनीक उपलब्‍ध है। इसके बाद योजना बनाई गई।

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY