• Home
  • Officials suspended for putting PMO letter on social media

स्पष्टीकरण /पीएमओ का पत्र सोशल मीडिया पर डालने से अधिकारी हुए नीलंबित : गडकरी

  • केंद्रीय मंत्री ने कहा, पत्र को सोशल मीडिया पर डालने से उड़ी भ्रामक खबरें

Moneybhaskar.com

Sep 09,2019 09:01:00 PM IST

मुंबई. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को कहा कि सड़क विभाग के एक अधिकारी को इसलिए नीलंबित कर दिया गया, क्योंकि उन्होंने राजमार्ग परियोजना पर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के एक पत्र को सोशल मीडिया पर डाल दिया था। उन्होंने कहा कि पत्र को सोशल मीडिया पर डाले जाने से ऐसी भ्रामक खबरें फैली कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के वित्तीय संकट को लेकर पीएमओ चिंतित है। गडकरी ने कहा कि किसी व्यक्ति ने सड़क परियोजनाओं पर सलाह देते हुए 1,300 पन्ने का एक पत्र लिखा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर उनके प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र ने नौ सचिवों को यह पत्र फॉरवर्ड कर दिया ताकि वे इसे पढ़ सकें। इनमें सड़क विभाग के सचिव भी शामिल थे। उन्होंने एनएचएआई की वित्तीय हालत और परियोजनाओं को पूरा कर पाने की उसकी क्षमता पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि हमारे एक अधिकारी ने पत्र की तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल दी। इसके कारण कई भ्रामक खबरें प्रकाशित हुईं। हमने उस अधिकारी को नीलंबित कर दिया है।

पीएम और पीएमओ को एनएचएआई पर पूरा भरोसा

गडकरी ने कहा कि पीएम और पीएमओ को एनएचएआई पर पूरा भरोसा है और उन्होंने एनएचएआई को परियोजनाओं की संख्या बढ़ाने के लिए कहा है। एनएचएआई के पास पैसे की कोई कमी नहीं है। उन्होंने साथ ही कहा कि प्राधिकरण इस साल के अंत तक पांच लाख करोड़ रुपए की परियोजनाओं की घोषणा करेगा। इन परियोजनाओं को सभी मॉडलों के तहत पूरा किया जाएगा। जिनमें टोल-ऑपरेट-ट्रांसफर, इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट कंस्ट्रक्शन और बिल्ड-ऑपरेट-ट्रांसफर भी शामिल होंगे।

एनएचएआई की 450 परियोजनाओं की सूची जल्द होगी जारी

गडकरी ने कहा कि जल्द ही वह एनएचएआई की 450 परियोजनाओं की एक सूची जारी करेंगे। उनसे संबंधित भूमि अधिग्रहण और निर्माण का खर्च और आवश्यक नियामकीय मंजूरी का एक टेबल भी बनाएंगे। उस पर तभी आगे बढ़ेंगे, जब सभी अनिवार्यताएं पूरी हो जाएंगी। संसाधन जुटाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि कोई भी अतिरिक्त वित्तीय सहायता की मांग नहीं की जाएगी।

सड़क परियोजनाओं के लिए गडकरी ने किया रोडशो

गडकरी और उनके सहायक मंत्री जनरल वीके सिंह के नेतृत्व में एनएचएआई के अधिकारियों ने सोमवार को रोडशो के तहत निवेशकों से मुलाकात की। इसका मकसद टोल-ऑपरेट-ट्रांसपोर्ट मॉडल वाली सड़क परियोजनाओं में निवेश आकर्षित करना था। इस बैठक में भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार और बैंक ऑफ बड़ौदा के एमडी व सीईओ पीएस जयकुमार सहित शीर्ष बैंक अधिकारियों ने हिस्सा लिया। कनाडा का पेंशन फंड सीडीपीक्यू, नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फंड (एनआईआईएफ) और आस्ट्रेलियन मैक्वारी ने भी इस बैठक में हिस्सा लिया। गडकरी ने कहा कि बैंकों ने सड़क सेक्टर को मदद देने में रुचि दिखाई है।

चालू वित्त वर्ष में एनएचएआई 4,500 किलोमीटर सड़क बनाएगा

बैठक में एनएचएआई के एक अधिकारी ने कहा कि अधिकारी 2019-20 में 4,500 किलोमीटर सड़क बनाना चाहता है। पिछले साल एनएचएआई ने 3,900 किलोमीटर सड़क का निर्माण किया था। अधिकारी ने साथ ही कहा कि प्राधिकरण जल्द ही दूसरे चरण का मसाला बांड जारी करेगा।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.