Home » Economy » InfrastructureJ&K has potential to provide electricity to country: PM

8000 करोड़ रुपए से जम्‍मू-कश्‍मीर में बनेगा हाईड्रो पावर प्‍लांट, पाक ने किया विरोध

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में देश के अन्य हिस्सों को भी बिजली उपलब्ध कराने की क्षमता है

1 of

नई दिल्‍ली.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जम्‍मू कश्‍मीर में 330 मेगावाट कैपेसिटी के किशनगंगा हाईड्रो प्रोजेक्‍ट का उद्घाटन किया। साथ ही, उन्‍होंने  किश्तवार जिले में 1,000 मेगावाट क्षमता की पाकल दुल हाईड्रो प्रोजेक्‍ट का शिलान्‍यास भी किया। 

 

 

पीएम के उद्घाटन के बाद पड़ोसी देश पाकिस्‍तान ने विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। पाकिस्‍तान का कहना है कि उसके देश में बह रहीं नदियों पर प्रोजेक्‍ट के इस प्रस्‍ताव से पानी के बहाव में दिक्‍कतें पैदा होंगी । 

 

 

जम्मू-कश्मीर में बिजली उत्पन्न करने की क्षमता

इससे पहले उद्घाटन के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में न केवल अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए बिजली उत्पन्न करने की क्षमता है बल्कि देश के अन्य हिस्सों को भी बिजली उपलब्ध कराने की क्षमता है। जम्मू-कश्मीर में कई नदियां हैं जिनके पास बिजली उत्पादन की अपार संभावना है। 

 

 

केंद्र व राज्‍य की बराबर हिस्‍सेदारी 
पाकल दुल हाईड्रो प्रोजेक्‍ट पर 8112.12 करोड़ रुपए के खर्च को सीसीईए ने मंजूरी थी और इसमें केंद्र व राज्‍य सरकार की बराबर हिस्‍सेदारी है। इस प्रोजेक्‍ट की डेडलाइन 66 महीने रखी गई है। 

 

जम्‍मू कश्‍मीर में खर्च होंगे 4000 करोड़ 
प्रधान मंत्री ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है कि हर घर तक बिजली पहुंचाई जाए। इसके लिए वर्तमान बिजली वितरण प्रणाली में सुधार किया जा रहा है। स्मार्ट मीटर जैसे स्‍मार्ट टैक्‍नोलॉजी का उपयोग किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में बिजली वितरण नेटवर्क में सुधार के लिए 4,000 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं ताकि ताकि राज्य के हर गांव और शहर में बिजली पहुंचाई जाए। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट