Home » Economy » InfrastructureNew highway projects will pass through less developed areas

दिल्‍ली-मुंबई के बीच नया एक्‍सप्रेस-वे बनाएगी सरकार, अविकसित इलाकों को होगा फायदा

सरकार दिल्‍ली और मुंबई के बीच नया (ग्रीन फील्‍ड) एक्‍सप्रेस-वे बनाने की दिशा में काम कर रही है।

1 of

 

नई दिल्‍ली। सरकार दिल्‍ली और मुंबई के बीच नया (ग्रीन फील्‍ड) एक्‍सप्रेस-वे बनाने की दिशा में काम कर रही है। यह एक्‍सप्रेस-वे कम विकसित इलाकों से होकर गुजरेगा। रोड एंड ट्रांसपोर्ट मिनिस्‍टर नितिन गडकरी ने यह जानकारी दी। 

 

लैंड कॉस्‍ट में आएगी कमी 
उन्‍होंने कहा कि वर्तमान हाइवे की लेन बढ़ाने की बजाय हम ग्रीनफील्‍ड प्रोजेक्‍ट्स की ओर फोकस कर रहे हैं। ये ग्रीनफील्‍ड हाइवे कम विकसित इलाकों से होकर गुजरेंगे, ताकि लैंड एक्‍वीजिशन की कीमत में कमी आए।  नए अलाइनमेंट की पहचान की जा रही है, जिसके बाद कॉस्‍ट का निर्णय लिया जाएगा। 

 

27 किमी रोज बने हाईवे 
उन्‍होंने दावा किया कि पिछले वित्‍त वर्ष में हाईवे कंस्‍ट्रक्‍शन में 20 फीसदी की वृद्धि हुई है। फाइनेंशियल ईयर 2018 में हमने 27 किलोमीटर रोजाना हाईवे बनाए, जबकि साल 2017 में 22 किलोमीटर रोजाना हाईवे बनाए गए थे। जबकि साल 2014 में जब हमारी सरकार बनी थी, उस समय रोजाना औसतन 11 किलोमीटर हाईवे बनाया जा रहा था। उन्‍होंने कहा कि उनकी सरकार की वास्‍तविक अचीवमेंट तब होगी, जब देश में रोजाना 40 किलोमीटर हाईवे का निर्माण किया जाए। 

 

5 अप्रैल को तय होगा टारगेट 
उन्‍होंने बताया कि मंत्रालय ने पिछले वित्‍त वर्ष में 17300 किलोमीटर हाईवे के कंस्‍ट्रक्‍शन कॉन्‍ट्रेक्‍ट अवार्ड किए, जो वित्‍त वर्ष 2016-17 में 15848 किलोमीटर था। उन्‍होंने कहा कि 5 अप्रैल को होने वाली हाई लेवल मीटिंग में चालू वित्‍त वर्ष का हाईवे कंस्‍ट्रक्‍टशन टारगेट तय किया जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट