Home » Economy » InfrastructureCEA, Power Generation, 2018-19 में बढ़ेगा 35 हजार MU पावर जनरेशन

2018-19 में बढ़ेगा 35 हजार MU पावर जनरेशन, यूपी सहित इन राज्‍यों को होगा फायदा

इस वित्‍त वर्ष में पिछले साल के मुकाबले लगभग 35 हजार मिलियन यूनिट पावर जनरेशन बढ़ाया जाएगा।

1 of

नई दिल्‍ली। साल 2018-19 में सरकार ने पावर जनरेशन बढ़ाने का टारगेट रखा है। इस वित्‍त वर्ष में पिछले साल के मुकाबले लगभग 35 हजार मिलियन यूनिट पावर जनरेशन बढ़ाया जाएगा। टारगेट है कि यूपी सहित लगभग सभी बड़े राज्‍यों में बिजली संकट न हो, इसके लिए इन राज्‍यों का जनरेशन टारगेट बढ़ाया गया है। सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी (सीईए) द्वारा साल 2018-19 का एनुअल जनरेशन प्रोग्राम जारी कर दिया है। इस प्रोग्राम में पिछले साल के जनरेशन टारगेट के मुकाबले इस साल के टारगेट में लगभग 3 फीसदी की वृद्धि की गई है। 

 

क्‍या है टारगेट में अंतर 
- साल 2017-18 में देश का जनरेशन टारगेट 1229400 मिलियन यूनिट था। 
- साल 2018-19 का जनरेशन टारगेट 1265000 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
पिछले साल के मुकाबले इस साल के टारगेट में 35600 मिलियन यूनिट की बढ़ोतरी की गई है। 

 

किन राज्‍यों को होगा फायदा 
सीईए द्वारा तैयार किए गए एनुअल जनरेशन प्रोग्राम में बड़े राज्‍यों का खास ख्‍याल रखा गया है। 
- यूपी का साल 2017-18 का जनरेशन टारगेट 123350 मिलियन यूनिट था, जिसे बढ़ाकर 129423 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
- मध्‍यप्रदेश का साल 2017-18 का जनरेशन टारगेट 97250 मिलियन यूनिट था, जिसे बढ़ाकर 110864 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
- महाराष्‍ट्र का जनरेशन टारगेट भी बढ़ा दिया गया है। जो साल 2017-18 में 111233 था, जिसे अब 132643 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
- गुजरात का जनरेशन टारगेट 93804 से बढ़ाकर 103979 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
- राजस्‍थान का जनरेशन टारगेट 49085 से बढ़ाकर 60863 मिलियन यूनिट कर दिया गया है।
- हरियाणा का जनरेशन टारगेट 20950 से बढ़ाकर 23650 मिलियन यूनिट कर दिया गया है। 
 
हाइड्रो का टारगेट घटाया 
सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी ने साल 2018-19 में हाइड्रो सेक्‍टर से मिलने वाली पावर का जनरेशन टारगेट घटा दिया है। इसकी वजह यह रही कि 2017-18 में हाइड्रो सेक्‍टर का परफॉरमेंस खराब रहा। 2017-18 में हाइड्रो से 141400 मिलियन यूनिट बिजली मिलने का टारगेट रखा गया था, लेकिन फरवरी 2018 तक केवल 119138 मिलियन यूनिट ही बिजली मिल पाई। इसलिए साल 2018-19 में हाइड्रो प्रोजेक्‍ट्स का जनरेशन टारगेट घटाकर 130000 मिलियन यूनिट रखा गया है। 

 

किस सेक्‍टर में होगा जनरेशन 
- कोयले से चलने वाले थर्मल प्‍लांट से 1008290 मिलियन यूनिट जनरेशन का टारगेट रखा गया है। 
- लिग्‍नाइट से चलने वाले थर्मल प्‍लांट से 36000 मिलियन यूनिट जनरेशन का टारगेट रखा गया है। 
- नेचुरल गैस से चलने वाले प्‍लांट से 47000 मिलियन यूनिट जनरेशन का टारगेट रखा गया है। 
' जबकि न्‍यूक्लियर प्‍लांट से 38500 मिलियन यूनिट जनेशन का टारगेट रखा गया है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट