Advertisement
Home » इकोनॉमी » इंफ्रास्ट्रक्चरHow can apply for Jawahar Navodaya Vidyalaya

इस स्कूल में बढ़ जाएंगी 5000 सीटें, अपने बच्चों के फ्यूचर के लिए ऐसे करें अप्लाई

8वीं तक नहीं लगती कोई भी फीस, 12वीं तक की फीस 600 रु.मंथली

How can apply for Jawahar Navodaya Vidyalaya

नई दिल्ली. मोदी सरकार ने जवाहर नवोदय विद्यालय में 5000 सीटें बढ़ाने का निर्णय लिया है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर ने आज इस आशय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि एकेडमिक ईयर 2019-20 से यह सीटें बढ़ जाएंगी। अभी देश भर के जवाहर नवादेय विद्यालय में 46600 सीटें हैं, 5000 सीटें बढ़ने से 51000 पहुंच जाएंगी। अगर आप भी इसका फायदा उठाकर अपने बच्चे का भविष्य संवारना चाहते हैं तो जानते हैं कि कैसे आप जवाहर नवादेय विद्यालय में बच्चे को दाखिला दिला सकते हैं। 

 

जानें, क्या है फीस 

जवाहर नवोदय विद्यालय में आठवीं तक की पढ़ाई मुफ्त है, जबकि नौवीं से 12वीं तक पहले 200 रुपए फीस ली जाती थी, जिसे पिछले साल बढ़ाकर 600 रुपए कर दिया गया है, लेकिन यदि सरकारी कर्मचारी का बच्चा है तो उसकी फीस 1500 रुपए हैं, लेकिन लड़कियों के लिए 12वीं तक की शिक्षा मुफ्त है, जबकि एससी, एसटी और बीपीएल कैटेगिरी के बच्चों से भी 12वीं तक कोई फीस नहीं ली जाती। 

Advertisement

 

कैसे कर सकते हैं अप्लाई 
Jawahar Navodaya Vidyalaya में साल में तीन कक्षाओं में सीधे दाखिले के लिए आवेदन मंगाए जाते हैं। नवोदय विद्यालय की पढ़ाई काफी उच्च स्तर की मानी जाती है इसलिए इन स्कूल्स में एडमिशन के लिए पेरेंट्स में होड़ मची रहती है। नवोदय विद्यालय में छठी, नौंवीं और ग्यारहवीं कक्षा में सीधे दाखिले होते हैं इन कक्षाओं में दाखिले के लिए छात्र को एक टेस्ट देना होता है जिसे जवाहर नवोदय विद्यालय सिलेक्शन टेस्ट (JNVST) कहा जाता है। यह एक नॉन वर्बल और क्लास के पाठ्यक्रम पर आधारित टेस्ट होता है। 

 

यहां से लें जानकारी 

इन कक्षाओं में दाखिले की पूरी जानकारी आप नवोदय विद्यालय की वेबसाइट https://navodaya.gov.in/nvs/en/Admission-JNVST/Enrolment-Policy/ पर देख सकते हैं। इनमें दाखिले का प्रारूप भी अलग-अलग है। छठी कक्षा में दाखिले के लिए बच्चे का किसी सरकारी स्कूल में पांचवी कक्षा में पढ़ना जरूरी है। वहीं नौंवी कक्षा के लिए छात्र का किसी सरकारी स्कूल में आठवीं कक्षा पास करना जरूरी है। इसके अलावा एडमिशन के साल में बच्चे की उम्र 1 मई को 13-16 साल के बीच होनी चाहिए। वहीं ग्यारहवीं कक्षा में दाखिले के लिए बच्चे की उम्र एडमिशन के साल में 1 जुलाई को 14-18 वर्ष होनी चाहिए। इसके अलावा छात्र का दसवीं कक्षा पास होना जरूरी है। इन सभी कक्षाओं में दाखिले के लिए सिलेक्शन टेस्ट होता है जो देशभर में स्थित विभिन्न जवाहर नवोदय विद्यलायों में आयोजित किया जाता है। 

Advertisement

 

इस बात का रखें ध्यान 
एग्जाम के बाद मेरिट तैयार की जाती है जिसके आधार पर बच्चे को एडमिशन मिलता है। ध्यान रहे कि नवोदय विद्यालयों में केवल खाली सीट्स पर ही एडमिशन मिलता है। जो हर बार अलग-अलग हो सकता है

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement