Home » Economy » InfrastructureSpeed Limit for vehicles in all type of Indian roads

सड़क पर कार और बाइक की क्या होगी स्पीड, सरकार ने संसद में बताया, कहीं 60 तो 120 km की होगी लिमिट

सड़कों पर वाहनों की Speed Limit के नए नियम अप्रैल 2018 से लागू हो गए हैं

1 of

नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार ने अलग-अलग क्षेत्रों से गुजरने वाले वाहनों की मैक्सिमम स्‍पीड लिमिट (Speed Limit) में बदलाव कर दिया है। हर कैटेगिरी के लिए अलग-अलग स्‍पीड लिमिट रखी गई है। यह जानकारी सरकार की ओर से संसद में दी गई। सरकार की ओर से बताया गया कि अप्रैल 2018 से नए रूल्‍स लागू कर दिए गए हैं। हाल ही में नई व्‍हीकल कैटेगिरी में शामिल क्‍वाड्रीसाइकिल के अलावा थ्री-व्‍हीलर्स एक्‍सप्रेस-वे पर नहीं चल सकते। इसके अलावा हाईवे की स्‍पीड लिमिट भी बढ़ाई गई है। नए नियमों के मुताबिक किसी सड़क पर 120 किमी और किसी सड़क पर 60 किमी से अधिक तेजी से गाड़ी नहीं चला सकते। 

 

हाईवे पर 50 से 100 km की लिमिट फिक्‍स 
अगर आप 4 लेन या उससे अधिक डिवाइडेड कैरिज-वे पर चल रहे हैं तो आपको स्‍पीड लिमिट का खास ख्‍याल रखना चाहिए। ओवर स्‍पीड की वजह से हाईवे पर होने वाले एक्‍सीडेंट्स को देखते हुए ट्रैफिक पुलिस द्वारा जगह-जगह चैकिंग की जाती है। ऐसे में, यदि आप ओवर स्‍पीड के दोषी पाए जाते हैं तो आपको 6 माह की जेल भी हो सकती है। नए नियमों के मुताबिक: 

 
- आठ या उससे कम सीट वाले पैसेंजर व्‍हीकल (कार) की स्‍पीड अधिकतम 100 किलोमीटर प्रति घंटा तय की गई है। 


- नौ या उससे अधिक सीट वाले पैसेंजर व्‍हीकल (मिनी बस, स्‍टैंडर्ड बस आदि) 90 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक तेज नहीं चल सकते। 


- हाईवे पर गुड्स कैरिज व्‍हीकल ( टैम्‍पो, ट्रक आदि) की मै‍क्‍सिमम लिमिट 80 किमी फिक्‍स हो गई है। 
- यदि आप मोटर साइकिल से चल रहे हैं तो आप हाईवे पर 80 किमी से अधिक रफ्तार से नहीं चल सकते। 
- क्‍वाड्रीसाइकिल की स्‍पीड लिमिट 60 किमी तय की गई है। 
- तीन पहिया वाहनों की स्‍पीड लिमिट 50 किमी रखी गई है। 

 

जानें, क्‍या है शहरों से गुजर रही सड़कों की स्‍पीड लिमिट 
यदि आप म्‍युनिस्पिल लिमिट से होकर गुजर रहे हैं तो आपकी स्‍पीड लिमिट बदल जाती है। इसलिए आपको ध्‍यान रखना होगा कि 
- अगर आप 8 सीटर या उससे कम कैपेसिटी वाली कार में हैं तो आपकी स्‍पीड लिमिट 70 हो जानी चाहिए। यानी कि आपको 4 लेन या उससे अधिक लेन वाले हाईवे के मुकाबले 30 किमी स्‍पीड कम करनी होगी। 
- इसी तरह मिनी बस या बसों की स्पीड 60 किमी तय की गई। 
- म्‍युनिसिपल रोड पर गुड्स व्‍हीकल  की स्‍पीड 60 किमी फिक्‍स की गई है। 
- मोटर साइकिल की 60 किमी, क्‍वाड्रीसाइकिल की 50 और थ्री-व्‍हीलर की भी 50 किमी तय की गई है। 

 

आगे पढ़ें ... एक्‍सप्रेस-वे पर नहीं चल सकते ये वाहन 

 

एक्‍सप्रेस-वे पर नहीं चल सकते ये वाहन 
पिछले कुछ सालों में देश में एक्‍सप्रेस-वे की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है। यह सबसे हाई स्‍टैंडर्ड की सड़क है, इसलिए इसकी स्‍पीड लिमिट सबसे अधिक रखी गई है। वहीं, दो तरह के वाहनों के चलने की पाबंदी भी है। नए नियम के मुताबिक - 
- 8 सीट से कम कैपेसिटी वाले पैसेंजर व्‍हीकल की मैक्सिमम स्‍पीड लिमिट 120 किमी फिक्‍स की गई है, जो अब तक की सबसे अधिक स्‍पीड लिमिट है। 
- 8 सीट से अधिक पैसेंजर व्‍हीकल की स्‍पीड लिमिट 100 किमी है। 
- गुड्स व्‍हीकल की स्‍पीड लिमिट 80 किलोमीटर प्रति घंटा फिक्‍स की गई है। 
- वैसे तो सभी एक्‍सप्रेस-वे पर मोटर साइकिल चलाने की इजाजत नहीं है, लेकिन जिन पर इजाजत है, वहां भी 80 किमी प्रति घंटा से अधिक तेजी से मोटर सइकिल नहीं चलाई जा सकती 
- एक्‍सप्रेस-वे पर क्‍वाड्रीसाइकिल व थ्री व्‍हीलर के चलने की इजाजत नहीं है। 

 

आगे पढ़ें ... अन्‍य सड़कों पर यह है स्‍पीड लिमिट 

अन्‍य सड़कों पर यह है स्‍पीड लिमिट 
जो सड़क उपरोक्‍त तीनों कैटेगिरी में शामिल नहीं है तो उसे अन्‍स सड़क की कैटेगिरी में रखा गया है।

- इस कैटेगिरी में 8 सीट उससे कम सीट वाली कारें 70 किलोमीटर प्रति घंटा की स्‍पीड से चल सकती हैं। 
- इसी तरह 8 सीट से उससे अधिक स्‍पीड वाले पैसेंजर व्‍हीकल की मैक्सिमम स्‍पीड 60 किमी प्रति घंटा, सभी तरह के गुड्स व्‍हीकल की स्‍पीड 60 किमी, मोटर साइकिल की मैक्सिमम स्‍पीड 60 किमी, क्‍वाड्रीसाइकिल और थ्री व्‍हीलर की स्‍पीड लिमिट 50 किमी तय की गई है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट