Home » Economy » InfrastructureAir India today unveiled the revamped first class and business class

Air India की इंटरनेशनल फ्लाइट्स की बदली सूरत, रोजाना 2 करोड़ रुपए बढ़ जाएगा रेवेन्‍यू

Air India का मकसद फर्स्‍ट कलास और बिजनेस क्‍लास में हाई क्‍लास ट्रेवलर्स की संख्‍या बढ़ाना है

Air India today unveiled the revamped first class and business class

नई दिल्‍ली. एयर इंडिया ने अपनी अंतर्राष्‍टीय उड़ानों बोइंग एयरक्राफ्ट के लिए नई सर्विसेज शुरू की हैं। इसका मकसद फर्स्‍ट कलास और बिजनेस क्‍लास में हाई क्‍लास ट्रेवलर्स की संख्‍या बढ़ाना है। अभी फर्स्‍ट क्‍लास व बिजनेस क्‍लास की ऑक्‍यूपेंसी 60 फीसदी है, एयर इंडिया इसे बढ़ा कर 80 फीसदी करना चाहता है। 

 

नई यूनिफार्म, बेहतरीन खाना  
शनिवार को नई सर्विसेज लॉन्‍च की गई, जिसमें क्रू के लिए नई यूनिफॉर्म, पर्दे, खाना आदि शामिल है। यह शुरुआता इसलिए बहुत महत्‍व रखती है,क्‍योंकि एक सप्‍ताह पहले तक घाटे में चल रही एयर इंडिया के डिसइन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान पर सरकार काम कर रही थी। 

 

4 से 6.5 करोड़ हो जाएगा रेवन्‍यू 
एयर इंडिया की प्रीमियम क्‍लास इन नई सर्विसेज को महाराजा डायरेक्‍ट नाम दिया गया है। एयरलाइन को उम्‍मीद है कि इससे उसे रोजाना 6.5 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू मिलेगा, जबकि अभी इन प्रीमियम क्‍लासेस से एयर इंडिया को 4 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू मिलता है। 

 

17 फीसदी मार्केट शेयर 
वर्तमान में इंटरनेशनल रूट्स पर एयर इंडिया का 17 फीसदी मार्केट शेयर है। इसमें हर सप्‍ताह 2,500 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय प्राइम-टाइम स्लॉट शामिल हैं और 43 विदेशी गंतव्यों में फैले हैं।  

 

नहीं लिया जाएगा एक्‍सट्रा चार्ज 
महाराजा डायरेक्‍ट सर्विसेज लॉन्‍च करने के बाद सिविल एविएशन सेक्रेट्री आरएन चौबे ने कहा कि किसी एयरलाइन के लिए बिजनेस क्‍लास और फर्स्‍ट क्‍लास से मिलने वाला रेवेन्‍यू काफी महत्‍व रखता है। इसलिए एयर इंडिया के बिजनेस क्‍लास में सुधार करने का मकसद दूसरी एयरलाइन के समान सर्विसेज उपलब्‍ध कराना है। उन्‍होंने कहा कि यात्री पहले जितना किराया दे रहे थे, उसी किराये पर ज्‍यादा अच्‍छा महसूस करेंगे। सर्विसेज में किए गए सुधार के लिए यात्रियों से कोई अतिरिक्‍त शुल्‍क नहीं लिया जाएगा। बावजूद इसके, उम्‍मीद है कि सर्विसेज के इस अपग्रेडेशन से एयर इंडिया को 20 फीसदी अधिक रेवेन्‍यू हासिल होगा।

 

सुधार की पूरी संभावना : प्रभु 
इस मौके पर सिविल एविएशन मिनिस्‍टर सुरेश प्रभु ने कहा कि सरकार एयर इंडिया को आज की तुलना में कहीं बेहतर कंपनी बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।  उन्‍होंने कहा कि हालांकि एयरलाइन और उसका स्‍टाफ का वित्‍तीय मुद्दों पर थोड़ा नियंत्रण नहीं थे, लेकिन उनमें पूरी क्षमता है कि वह एयरलाइन की दशा में सुधार कर चमत्‍कार कर सकते हैं। 
इस मौके पर मिनिस्‍टर ऑफ स्‍टेट फॉर सिविल एविएशन जयंत सिन्हा भी उपस्थित थे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट