बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Infrastructureनोट कि‍या या नहीं, बीते माह बढ़ गए इन चीजों के दाम

नोट कि‍या या नहीं, बीते माह बढ़ गए इन चीजों के दाम

बीते माह थोक महंगाई की दर 4 माह के टॉप पर पहुंच गई।

1 of

नई दिल्‍ली. बीते माह थोक महंगाई की दर 4 माह के टॉप पर पहुंच गई। सरकार की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों से इसका खुलासा हुआ है। आंकड़ों के मुताबि‍क, अप्रैल माह में थोक महंगाई दर 3.18 फीसदी दर्ज की गई, जबकि‍ मार्च में यह 2.47 फीसदी और पिछले साल अप्रैल में 3.85 फीसदी दर्ज की गई थी। वहीं 4 माह पहले दिसंबर 2017 में थोक महंगाई दर 3.58 फीसदी रही थी। थोक महंगाई में आई तेजी की वजह पेट्रोल के थोक दाम में 4 गुना और फलों के थोक दाम में दोगुनी बढ़ोत्‍तरी होना रहे। 

 

कि‍सकी महंगाई दर बढ़ी  
अप्रैल में खाद्य वस्‍तुओं की थोक महंगाई दर 0.87 फीसदी दर्ज की गई, जबकि मार्च में यह -0.29 फीसदी थी। सब्जियों की थोक महंगाई दर अप्रैल में -0.89 फीसदी दर्ज की गई, जो मार्च में -2.70 फीसदी थी। इस तरह देखा जाए तो सब्जियों के दाम में बढ़ोत्‍तरी तो हुई, लेकिन फिर भी यह महंगाई के स्‍तर से नीचे रही। हालांकि‍ अप्रैल में फलों की थोक महंगाई दर में दोगुनी बढ़ोत्‍तरी दर्ज की गई। यह मार्च 2018 के 9.26 फीसदी से बढ़कर 19.47 फीसदी हो गई। 


फ्यूल एंड पावर के मामले में थोक महंगाई दर अप्रैल में बढ़कर 7.85 फीसदी हो गई, जो मार्च में 4.70 फीसदी थी। इस तेजी की वजह दुनिया में क्रूड की बढ़ती कीमतों के चलते डॉमेस्टिक फ्यूल के दाम में आई तेजी रही। बता दें कि इस वित्‍त वर्ष के लिए अपनी पहली मॉनेटरी पॉलिसी में रिजर्व बैंक ने महंगाई से जुड़ी चिंताओं का हवाला देते हुए ब्‍याज दरों को जस का तस रखा था। 


मार्च की तुलना में अप्रैल में महंगी हुई चीजें और महंगाई दर  

प्रोडक्‍ट अप्रैल मार्च
गेहूं - 0.07  -1.19 
आलू  67.94  43.25
फल 19.47 9.26 
पेट्रोल   9.45 2.55
मोटा अनाज   0.21   - 0.55 
धान  3.86 3.05
हाई स्‍पीड डीजल  13.01 6.12 

 आंकड़े - मिनिस्‍टरी ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट