Advertisement
Home » Economy » InfrastructureThis real estate company escaped bankruptcy

दिवालिया होने से बच गई यह रियल्टी कंपनी, कई सौ मकान खरीदारों को राहत

एनसीएलटी से क्लीन चिट मिलने के बाद घर खरीददारों को मिली

This real estate company escaped bankruptcy

नोएडा: रियल एस्टेट कम्पनी सिक्का ग्रुप की कंपनी सिक्का इन्फ्रा पर कथित दिवालिया होने के आरोपों के मामले में एनसीएलटी से क्लीन चिट मिलने के बाद लगभग कई सौ घर खरीददारों को राहत मिली है | एनसीएलटी ने इसके साथ ही आईआरपी को भी हटाने का आदेश दिया है | साथ ही कोर्ट ने इसकी नियुक्ति को अवैध व न्यायिक कानूनों के खिलाफ बताया जिसके बाद आईआरपी ने तत्काल प्रभाव से अपनी कार्यवाही भी रोक दी है |

 

 

सिक्का इन्फ्रा के प्रोजेक्ट सिक्का कर्णम ग्रीन्स के ऊपर एक छोटे से रकम को लेकर क्लेम किया गया था

गौरतलब है कि सिक्का इन्फ्रा के प्रोजेक्ट सिक्का कर्णम ग्रीन्स के ऊपर एक छोटे से रकम को लेकर क्लेम किया गया था जिसके बाद एनसीएलएटी ने सिक्का इन्फ्रा के प्रोजेक्ट सिक्का कर्णम ग्रीन्स पर आईआरपी लगाई थी | जबकि प्रोजेक्ट के फेज 1 में 323 यूनिट हैं जो बनकर तैयार हैं और अथॉरिटी में ऑक्यूपेंसी सर्टिफिकेट के लिए भी अप्लाई किया जा चूका है | वहीं फेज 2 और 3 कंस्ट्रक्शन पूरी तेजी से चल रहा है |

 

इस वर्ष लगभग 1600 यूनिट्स डिलीवर करेंगे और सभी में तेजी से काम चल रहा है

 

कोर्ट की सुनवाई के बाद कंपनी ने अपने सारे पक्ष सामने रखे और बताया की कैसे उन्हें बदनाम करने के इरादे से अफवाह फैलाई गयी | कोर्ट ने मामले की जांच करते हुए सिक्का इन्फ्रा के पक्ष में अपना फैसला सुनाया | कोर्ट ने आईआरपी की नियुक्ति और इसके द्वारा लगायी गयी सभी प्रकार की रोक को ख़ारिज किया | जिससे अब कंपनी फिर से अपना काम पहले की तरह नियमित व सुचारू रूप से चला सकता है | फैसला आने के बाद सिक्का कर्णम ग्रीन से जुड़े घर खरीददारों व निवेशकों ने राहत की सांस ली | सिक्का ग्रुप के एमडी हरविंदर सिक्का ने बताया कि कंपनी के कई प्रोजेक्ट्स बने हुए हैं | इस वर्ष हम लगभग 1600 यूनिट्स डिलीवर करेंगे और सभी में तेजी से काम चल रहा है | कोर्ट का फैसला आने के बाद एक बार फिर से सच की जीत हुई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement