विज्ञापन
Home » Economy » Infrastructure7 islands in Andamans, Lakshadweep Identified For Seaplane Operations

अंडमान और लक्षद्वीप के सात द्वीपों पर उतरेंगे seaplane, बनेगी Film City

यहां की विकास परियोजनाओं में निवेश करने वालों को मिलेगा टैक्स में फायदा

1 of

नई दिल्ली.

 

 

इन द्वीपों पर चलेंगे सीप्लेन

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के स्वराज द्वीप, शहीद द्वीप, हटबे (Hutbay) और लॉन्ग (Long) द्वीप में सीप्लेन ऑपरेशन शुरू होगाद्ध लक्षद्वीप में कवरत्ती, अगाती, मिनिकॉय (Minicoy) द्वीपों पर यह सेवा शुरू होगी। इतना ही नहीं Minicoy द्वीप में नया एयरपोर्ट बनाने और Diglipur एयरपोर्ट पर सिविलियन एयरक्राफ्ट को ऑपरेट करने के प्रोजेक्ट्स को भी प्राथमिकता दी जाएगी। इसके साथ ही Andaman Trunk Road पर 'Middle Strait Bridge' बनाने के लिए कोस्टल रेगुलेशन जोन क्लीयरेंस भी मिल गया है।

 

क्या होता है सीप्लेन

यह ऐसे प्लेन होते हैं जो पानी में टेक ऑफ और लैंड कर सकते हैं। इसकी लैंडिंग के लिए वॉटर एयरोड्रोम बनाए जाते हैं। किसी जलीय स्रोत का ऐसा एरिया जिसे सीप्लेन या एंफिबियस प्लेन लैंडिंग और टेकऑफ के लिए इस्तेमाल करते हैं उसे वॉटर एयरोड्रोम कहते हैं। यह एयरोड्रोम्स जमीन पर बनी किसी इमारत से जुड़े हो सकते हैं, जहां पर प्लेन को जहाज की तरह खड़ा किया जा सके।

पर्यटन आधारित प्रोजेक्ट्स पर हाेगा काम

दोनों द्वीप समूहों में पर्यटन-आधारित प्रोजेक्ट्स तैयार करने के लिए प्राइवेट सेक्टर से आवेदन मंगाए गए हैं। इसके तहत अंडमान में स्मिथ द्वीप और लॉन्ग द्वीप में इको-टूरिज्म प्रोजेक्ट पर काम होगा, वहीं Aves आईलैंड में टेंट सिटी प्रोजेक्ट पर काम किया जाएगा। इनके लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके अलावा नील द्वीप पर भी एक प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा। वहीं लक्षद्वीप के भी तीन द्वीपों को भी बोली के लिए चुन लिया गया है। इसमें Kadmat, Minicoy और Suheli Cheriyakara द्वीप पर तैयार होने वाले टूरिज्म प्रोजेक्ट्स शामिल हैं।

 

 

निवेश करने वालों को मिलेगा टैक्स में फायदा

वाणिज्य मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है जिसके मुताबिक अंडमान-निकोबार और लक्षद्वीप में मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर में निवेश करने पर टैक्स में कई प्रकार के फायदे दिए जाएंगे। इसमें जीएसटी रिइंबर्समेंट, आयकर रिइंबर्समेंट, ट्रांसपोर्ट इंसेंटिव और इंप्लॉयमेंट इंसेंटिव शामिल है।

 

यहां बन रही है फिल्मसिटी

Island Development Agency (IDA) की चौथी बैठक में गृह मंत्री ने कई रिक्रिएशनल फैसेलिटीज और टूरिज्म इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने पर चर्चा की थी। इसमें रिनुएबल एनर्जी प्रोजेक्ट्स, लघु, सूक्ष्म और मध्यम इंटरप्राइजेज के लिए इंसेंटिव और द्वीप पर फिल्मसिटी तैयार करने का प्रोजेक्ट शामिल था। इन सब प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन