विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructureRajasthan Government will distribute debt relief certificate from 7th February

किसानों को 7 फरवरी से मिलेंगे कर्जमुक्ति के प्रमाण पत्र, 8 लाख को होगा फायदा

मुख्य सचिव ने कमिश्नरों और जिला अधिकारियों के साथ बैठक कर दिए निर्देश

Rajasthan Government will distribute debt relief certificate from 7th February

Rajasthan Government will distribute debt relief certificate from 7th February: राजस्थान में सहकारी बैंकों के पात्र किसानों को उनके फसली कर्ज माफ होने के प्रमाण पत्र इसी सप्ताह, सात फरवरी से दिए जाएंगे। राज्य सरकार ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे को लेकर आठ फरवरी से जेल भरो आंदोलन करने वाली थी। 

नई दिल्ली। राजस्थान में सहकारी बैंकों के पात्र किसानों को उनके फसली कर्ज माफ होने के प्रमाण पत्र इसी सप्ताह, सात फरवरी से दिए जाएंगे। राज्य सरकार ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे को लेकर आठ फरवरी से जेल भरो आंदोलन करने वाली थी। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार मुख्य सचिव डी बी गुप्ता ने रविवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सभी संभागीय आयुक्तों व जिला कलेक्टरों के साथ बैठक की और कर्ज माफी प्रमाण-पत्र वितरण शिविरों के संबंध में दिशा निर्देश दिए।

 

ग्राम सेवा सहकारी समितियों में लगेंगे शिविर
सभी जिलों में ऋणमाफी प्रमाण-पत्र वितरण शिविर सात फरवरी से ग्राम सेवा सहकारी समितियों में होंगे। इनमें सहकारी बैंकों से जुड़े पात्र किसानों को ऋणमाफी प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। मुख्य सचिव ने अधिकारियों से कहा कि प्राथमिकता देते हुये इन शिविरों का आयोजन सफल बनाया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने जन घोषणा पत्र को नीतिगत दस्तावेज बनाया है और उसमे पहला बिन्दु किसान कल्याण से संबंधित है। यह सरकार की पहली प्राथमिकता है। इसी बात को ध्यान में रखकर ऋणमाफी शिविरों की सफलता सुनिश्चित करें। सभी जिला कलक्टरों से यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि ऋणमाफी प्रक्रिया से जुड़ा कोई भी अधिकारी उनकी अनुमति के बिना मुख्यालय नहीं छोड़े।

 

कांग्रेस ने सरकार बनते ही किया था कर्जमाफी का ऐलान
आपको बता दें कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में किसानों का फसली कर्ज माफ करने की घोषणा की थी। इसके बाद अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री का पदभार ग्रहण करने के दो दिन में ही इसे लागू करने की घोषणा कर दी। इसके औपचारिकताएं तय करने के लिए बनाई गई समिति ने अपनी रपट कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री को सौंपी थी। भाजपा किसान कर्जमाफी को लगातार मुद्दा बनाए हुए है। 

 

आठ फरवरी से जेल भरो आंदोलन करने वाली थी भाजपा
विधानसभा के पहले सत्र में भी उसने इसे लेकर हंगामा किया। आठ फरवरी से वह जेल भरो आंदोलन शुरू करने वाली थी। इस बीच सरकार ने कर्जमाफी के प्रमाण पत्र बांटने के शिविर आयोजित करने की घोषणा की है। हालांकि, सरकार की ओर से अभी अन्य बैंकों के कर्जदाता किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया के बारे में कुछ नहीं कहा गया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन